Recession Ki Maar -रिसेशन की मार compleet

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories, erotic stories. Visit dreamsfilm.ru
rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: Recession Ki Maar -रिसेशन की मार

Unread post by rajaarkey » 13 Dec 2014 16:35

रिसेशन की मार पार्ट--29

गतान्क से आगे..........

डीके ने मेरी बेताबी देख ली और फिर मेरे चूतदो को मसल ते

मसल्ते अपने लंड के सुपाडे को चूत के अंदर बाहर कर रहे थे और फिर उनके 2 आक्षन एक साथ हुए. उन्हो ने अपने लंड को थोड़ा सा बाहर खेचा और मेरे चूतदो को ज़ोर से पकड़ के इतनी ज़ोर से अपनी तरफ खेंचा के उनका लंड मेरी गीली चूत को चीरता हुआ पूरा जड़ तक घुस्स गया और मैं चिल्ला पड़ी सस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सस्स म्‍म्म्माआआआअरर्र्र्र्र्र्र्ररर डड्डड्डयेयीयायाऑल्ल्लायाआयाययाया द्द्द्द्द्दद्ड ककककककककककक आआआअरर्रररीईए प्प्प्प्प्प्फ्ह्ह्ह्ह्ह्हाआआआत्त्त्त्त्त ग्गगाआययययईए हहाआऐईई म्‍म्म्मीईईईई एम्ममाययाआर्र्रियीयियी और मेरी गंद टेबल से स्लिप हो गयी और मेरे हाथ उनके शोल्डर्स मे डाल के मैं उनसे चिपक गयी. मेरा सारा बदन तकलीफ़ की वजह से पसीने से भर गया मेरे बूब्स उनके चौड़े बालो भरे सीने से लग के चिपक गये. मैने अपनी टाँगें उनके बॅक पे डाले उनको टाइट पकड़ लिया. डीके एक बोहोत ही पवरफुल आदमी थे और उन्हो ने मुझे किसी छोटी सी बच्ची की तरह से उठा लिया और घचा घच चोदने लगे. मैं उनके मिज़ाइल पे ही उछलने लगी. ऐसी ही 5 मिनट चोदने के बाद उन्हो ने मुझे दीवार से टीका दिया और इस बुरी तरह से और इतनी ज़ोर ज़ोर से चोदने लगे के मेरी आँखो से आँसू निकल ने लगे और मुझे लगा जैसे उनका लंड मेरी चूत से होता हुआ दीवार मे घुस जाएगा. मैं चिल्लती रही और झड़ती रही और वो मुझे चोद्ते रहे. मैं शाएद 3 या 4 बार झाड़ चुकी थी और मेरे झड़ने से मेरी चूत बोहोत ही गीली हो गयी थी पर डीके के लंड से मलाई निकलने का नाम ही नही ले रही थी.

थोड़ी देर ऐसे ही दीवार से टीका चोदने के बाद वो मुझे अपने लंड की सवारी कराते कराते खुद नीचे उतार दिया और मुझे पलटा दिया और मैं वही रखे एक कपबोर्ड का सहारा ले के खड़ी हो गयी और डीके ने पीछे से अपना मूसल लंड मेरी चूत मे घुसा दिया और मुझे चोदने लगे.

डीके ने पीछे से अपना मूसल लंड मेरी चूत मे घुसा दिया मुझे तकलीफ़

तो हो रही थी पर मज़ा उस से ज़ियादा आ रहा था. उनके लंड जब मेरी क्लाइटॉरिस से रगड़ खा के अंदर जाता तो मैं झड़ने लगती. पता नही उनका लंड कोन्से मेटीरियल से बना था जो बॅस चोदना जानता था कभी सॉफ्ट नही होता था. थोड़ी देर ऐसे ही चोदने के बाद मेरी एक टांग उठा दी और करीब रखे टेबल पे रख दिया और मुझे चोदने लगे.

डीके मेरी एक टांग सामने रखे टेबल पे रख के मुझे पीछे से चोदने लगे.

मेरी चूत पूरी तरह से खुल चुकी थी और वो मुझे ज़ोर ज़ोर से चोद रहे थे. मेरी चूत से हर थोड़ी देर के बाद जूस ऐसे निकलता जैसे गरम गरम लावा निकल रहा हो. फिर थोड़ी देर ऐसे ही चोदने के बाद मुझे एक बार फिर पलटा दिया और एक ही झटके से मुझे अपनी गोदी मे उठा लिया और रीफ्लेक्स आक्षन मे ही मैं उनके बदन से चिपक गयी और उनके लंड पे बैठ गयी. उनके लंड मेरी चूत मे ऐसे आसानी से घुस गया जैसे गरम गरम छुरी मक्खन मैं घुसती है.

मुझे अपने लंड पे उछाल उछाल के वो चोदने लगे. थोड़ी देर के बाद मुझे अपने बदन से लिपताए हुए वो नीचे लेट गये और मुझे अपने ऊपेर ले लिया. मैं उनके लंड पे बैठी थी और मेरे टाँगें घुटने से मूडी हुई उनके बदन के दोनो तरफ थी. अब मैं उनको चोद रही थी और वो मेरे उछलते बूब्स को अपने हाथो से मसल रहे थे. मुझे झुका के मेरे बूब्स को चूसने लगे. उनके लंड मुझे अपने हलक के अंदर महसूस होने लगा. मैं भी पूरी मस्ती से उनके लंड पे उछल कूद कर रही थी. मुझे डीके का लंड अपनी चूत मे फूलता हुआ महसूस हुआ और एक ही सेकेंड के अंदर बिना लंड निकाले मुझे पलटा दिया और मेरे ऊपेर चढ़ के आ गये और अपने पैर पीछे कपबोर्ड से टीका के पूरी ताक़त से चोदने लगे. उनके हर धक्के से मेरी चूत मे एक अजीब सा दरद और एक अजीब सा मज़ा आ रहा था और मुझे लगा जैसे मेरी चूत फॅट जाएगी और शाएद अंदर के मसल्स वाघहैरा भी डॅमेज हो जाए और फिर एक झटका इतनी ज़ोर से मारा का मेरे मूह से चीख ही निकल गयी उउउउउउउईईईईईईईईइ म्‍म्म्ममम आआआआआआआआ हह आआआआआ ईईईई और इधर उनके लंड से गरमा गरम गाढ़ी गाढ़ी मलाई का फव्वारा छूट पड़ा और मेरी चूत को भरने लगा और उधर मेरी चूत का बाँध भी टूट गया और मैं भी उनसे लिपट के झड़ने लगी. उनके लंड से बोहोत देर तक थोड़ी थोड़ी मलाई निकलती ही गयी. मुझे लगा जैसे मेरे बदन से जान ही निकल गयी मेरे हाथ पैर ढीले हो गये और डीके भी मेरे बदन पे ढेर हो गये.

थोड़ी देर तक हम दोनो गहरी गहरी साँसें लेते ऐसे ही एक दूसरे से लिपटे पड़े रहे. उनका लंड मेरी चूत के अंदर इतना फूल के मोटा हो चुका था के मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मेरी चूत फॅट के बर्स्ट हो जाएगी. थोड़ी देर वो मेरे ऊपेर ऐसे ही पड़े रहे. उनका लंड अभी भी सॉफ्ट नही हुआ था. मेरे ऊपेर लेटे ही लेटे उन्हो ने मुझे पकड़ लिया और रोल हो गये. अब पोज़िशन ऐसी थी के मैं उनके ऊपेर थी और उनका मूसल मेरी चूत के अंदर. अभी तक हम दोनो का मिक्स जूस मेरी चूत के अंदर ही फँसा हुआ था उनका लंड मेरी चूत के ऊपेर किसी बॉटल के कॉर्क की तरह से टाइट सील हो गया था. मैं झुक के उनको चूमने लगी और बोली के वाह क्या शानदार लंड पाया है मेरे डीके जान ने आंड आइ फील आइ आम लकी टू हॅव दिस आइरन हार्ड रोड तो वो मुस्कुरा दिए और बोले के स्नेहा यू आर दा बेस्ट रियली आइ लव यू सो मच. इतना सुनते ही मुझे उनपे इतना प्यार आया के बता नही सकती और मैं ने हाथ बढ़ा के टेबल से कांट्रॅक्ट और पेन उठा लिया और जैसे उन्हो ने मेरे सीने पे अपायंटमेंट लेटर साइन किया था बिल्कुल उसी तरह से मैं ने भी उनके सीने पे कांट्रॅक्ट रख के साइन कर दिया और बोला के आज सी मैं तुम्हारी दासी हू और तुम मेरे भगवान.

मैं तुम्हारी सेवा ऐसे करूँगी जैसे तुम मेरे भगवान हो तो उन्हो ने मुझे झुका के चूम लिया और मेरे कान मे धीरे से बोला के आइ रियली लव यू स्नेहा अब तुम देखना के मैं तुम्है कहा से कहा पहुँचा देता हू तुम माला माल हो जाओगी पैसो मे खेलने लगोगी तो मैने झुक के उनके मूह मे अपनी जीभ डाल के किस किया और धीरे से उनके कान मे बोला के मुझे पैसा नही मुझे तो तुम्हारा मूसल चाहिए अपनी चूत के अंदर मुझे और कुछ नही चाहिए. मुझे अपनी दासी बना के रखो प्लीज़. तुम्हारी हर तरह से सेवा करना मेरा धरम है अब.

हम दोनो एक दूसरे से लिपटा ऐसे ही प्यार कर रहे थे के मुझे कुछ आहट महसूस हुई, जैसे कोई अंदर आया हो तो मैं चौंक गयी तो डीके ने मेरे तरफ देखते हुए धीरे से आँखें बंद कर के खोल ली जिसका मतलब था रिलॅक्स कुछ नही होगा तो मैं रिलॅक्स हो गयी. किसी के चलने की आवाज़ आई और मैं ने देखा के आने वाला कोई और नही मेरा राज है. पहले तो मैं एक दम से डर गयी और डीके के लंड से उठना ही चाह रही थी के डीके ने मुझे कस्स के टाइट पकड़ लिया और अपनी टाँगो से मुझे लपेट लिया जिसकी वजह से मैं उठ नही पाई. राज को देखते ही मेरे पसीने छ्छूट गये. राज ने मुस्कुराते हुए कहा के कंग्रॅजुलेशन्स स्नेहा यू गॉट दा जॉब. मैं ने थॅंक्स बोला पर अभी भी मैं डर रही थी के डीके ने बोला के स्नेहा यही है तुम्हारा सीक्रेट अड्माइरर और सीक्रेट रेकमेंडेशन करने वाला. यह राज है मेरा पार्ट्नर. मेरे मूह से एक ठंडी और शुक्रिया भरी आअहह निकल गयी और मैं ने राज को थॅंक्स बोला. थॅंक्स फॉर एवेरी थिंग राज. मेरी समझ मे नही आ रहा था के कैसे रिक्ट करू. इतने मे डीके ने राज से बोला के कम ऑन यार खड़े खड़े क्या देख रहे हो आ जाओ देखो ब्रेकफास्ट रेडी है कुछ ब्रेआकरास्ट स्नेहा को कर्वाओ कुछ तुम करो. इतना सुनते ही राज मेरे सामने आ के खड़ा हो गया और मैं ने उसके पॅंट की ज़िप खोल के उसके लंबे मोटे लंड को बाहर निकाल लिया. थोड़ी देर तक उसको प्यार से सहलाती रही फिर उसके लंड के हेड को किस किया और फिर उसको चूसने लगी.

राज ने अपने कपड़े उतार दिए और मैने ने उसका पॅंट खोल दिया जो नीचे ज़मीन पे गिर पड़ा तो उसने पैर से उसको करीब पड़ी चेर पे उछाल दिया और मेरे सामने नंगा हो के खड़ा हो गया. राज का लंड भी फुल्ली एरेक्ट था जिसे मैं ने चूसना शुरू कर दिया. थोड़ी ही देर मे डीके ने अपना लंड मेरी चूत से बाहर निकाल लिया और मुझे लगा जैसे मेरी चूत से कोई समंदर बाहर निकल के बहने लगा इतना बोहोत मिक्स जूस निकला. पोज़िशन चेंज करते हुए डीके ने राज से बोला के मुझे पता है के तुम्हारा लंड कितना भूका है अब तुम इसकी चूत मे अपने लंड डालो और इसको चोद डालो. डीके अपनी जगह से उठ गये और मेरे मूह

मे अपना मोटा लंड डाल दिया. उनका लंड हमारे प्यार के जूस से फुल सना हुआ था जिसे मैं अपने मूह मे ले के चूसने लगी. बहुत ही टेस्टी था हमारा जूस जिसे मैं बोहोत ही मज़े से चटखारे ले ले के चूसने लगी.

राज ने फॉरन ही अपने लंड मेरी चूत मे पेल दिया. राज का लंड मेरी चूत मे और डीके का लंड मेरे मूह मे. डबल प्लेषर.

थोड़ी ही देर मे मुझे डॉगी स्टाइल मे कर दिया और राज ने पीछे से अपने लंड मेरी चूत मे डाल दिया और डीके मेरे सामने आ के खड़े हो गये और मैं उनके लंड को चूसने लगी.

राज पीछे से चोद रहे है और मैं डीके का लंड चूस रही हू

राज ने पीछे से मुझे चोदना शुरू किया. मैं डीके का लंड चूसने लगी

राज ने मुझे ज़ोर ज़ोर से चोदना शुरू कर दिया. उसके धक्के बोहोत ही तेज़ होते चले गये. जैसे जैसे उसके धक्के तेज़ होते डीके का लंड मेरे हलक तक घुस जाता. फिर एक धक्का इतनी ज़ोर से मारा के मेरे मुझ से चीख ही निकल गयी और मैं अपनी आपको संभाल ना पे और डीके के बदन पे जा गिरी. फॉरन ही डीके ने अपना लंड मेरी चूत मे घुसा दिया और राज पीछे से आ के मेरी गंद मे अपना लंड घुसेड दिया.

डीके का मूसल मेरी गंद मे और राज का लंड मेरी चूत मे

यह दोनो मिल के मुझे बड़ी बेदर्दी से चोदने लगे. दोनो के धक्के सिंचॉयरिज़ हो गये थे और मेरी चूत से कंटिन्यू जूस निकल रहा था. यह मेरी ज़िंदगी का पहले 3सम था दो दो मूसल और तगड़े तगड़े लंड मेरी चूत और गंद की धुनाई कर रहे थे और मैं बेबसी से दोनो के लंडो से चुदी चली जा रही थी. ऐसे 3सम मे मुझे बोहोत मज़ा आ रहा था. दोनो के लंड जब मेरी चूत और गंद के दरमियाँ की पतली सी झिल्ली से रगड़ खाते हुआ अंदर बाहर होते तो मैं अपने प्लेषर की सीमा बयान नही कर सकती. मुझे मानो जन्नत का मज़ा आ रहा था.

डीके और राज मेरी चूत और गंद को एक साथ चोद रहे थे.

राज और डीके मिलके मुझे घचा घच चोद रहे थे. किसी का लंड अंदर जाता तो दूसरे का बाहर आता. क्या बताउ कितना मज़ा आ रहा था और मैं मस्ती मे भरी हुई थी और चूत का तो पूछो ही नही. चूत का बाँध टूट चुका था और कंटिन्यू जूस निकल रहा था. दोनो के धक्के अब तूफ़ानी स्पीड मे चल रहे थे और मेरी जान निकली जा रही थी. मेरा जोड़ जोड़ दुख रहा था जैसे मेरे बदन मे जान ही ना हो पर मैं दोनो के धक्को को बर्दाश्त कर रही थी और दोनो के बीच सॅंडविच बनी चुदवा रही थी. थोड़ी देर के बाद ही दोनो ने इतनी बुरी तारह से चोदने शुरू किया के मेरी आँखो से आँसू बहते चले गये और मेरी चूत और गंद दोनो मे से खून भी निकल ने लगा और

फिर मेरे हाथ पैर ढीले पड़ गये और मैं बिना हरकत करे दोनो के बीच पड़ी चुदवाती और गंद मरवाती रही. दोनो ने ही एक एक इतना पवरफुल धक्का मारा और अपने लंडो को मेरी चूत मे और मेरी गंद मे गाढ दिया और अपनी अपनी मलाई का फव्वारा मेरी गंद और चूत मे चोदने लगे. मैं किसी मुर्दा छिपकली की तरह दोनो के बीच पड़ी रही. मेरा सारा बदन दुख रहा था और दिमाग़ मे सायँ सायँ हो रही थी जैसे ना मुझे कुछ नज़र आ रहा था और ना ही कुछ दिखाई दे रहा था. थोड़ी देर तक हम तीनो ऐसे ही पड़े रहे और जब दोनो ने अपने अपने लंड मेरी चूत और गंद से बाहर निकाले तो सच मे ही दोनो से खून की बूँदें टपकने लगी जिसे देख के दोनो ही मुस्कुरा उठे और दोनो ने मुझे एक साथ ही किस किया और मुझे नीचे से उठाया और मुझे सहारा दे के अंदर वाले कमरे ले गये जहा मैं ने गरम पानी से शवर लिया तो थोड़ी देर के बाद मेरी जान मे जान आई. मैं शवर से बाहर आ गयी और टवल लपेटे ही लपेटी लंगदाते हुए ऑफीस के सेक्षन मे जा के अपने कपड़े उठाए और पहेन लिए.

डीके और राज दोनो ने ऑलमोस्ट एक ही आवाज़ मे कहा "कंग्रॅजुलेशन्स स्नेहा. वेलकम टू आरके इंडस्ट्रीस" तो मेरे मूह पे एक सॅटिस्फॅक्ट्री और इतमीनान भरी मुस्कान आ गयी. मैं दोनो से लिपट गयी और बोला "थॅंक्स फॉर एवेरतिंग राज आंड डीके" आज से Mआईन तुम दोनो की दासी हू और तुम दोनो की सेवा करना मेरा धरम होगा और मैं अपने धरम का पालन ज़रूर करूँगी" और फिर हम तीनो मिल के शॅंपेन पीने और सेलेब्रेट करने लगे. दोनो का इस तरह से मेरे साथ ट्रीट करना मुझे बोहोत ही अछा लगा और मुझे दोनो पे प्यार आ गया और मेरी आँख से खुशी के आँसू निकल ने लगे.

मैं ऑफीस मे काम करने लगी. डीके ने पूछा के तुम हाउसिंग लोगि या तुम्है फ्लॅट चाहिए तो मैं ने बोला के डीके अब इस टाइम तो मुझे पैसे की बोहोत ही ज़रूरत है मुझे पैसा ही चाहिए लैकिन मेरा प्रोबेशन पीरियड ख़तम होने तक मेरे पास कुछ अमाउंट आ जाएगी जिस से हमारा थोडा काम चल जाएगा तो फिर प्रोबेशन पीरियड के बाद तुम मुझे अकॉमडेशन दे देना तो उसने बोला के कोई बात नही. एक काम करते है मैं तुम्हारे लिए फ्लॅट अप्रूव कर देता हू और 3 मंत्स की अड्वान्स हाउसिंग ले लेना तो मैं खुशी से उस से लिपट गयी और मैं इतनी खुश हो गयी के मुझे से यह खुशी संभाली नही जा रही थी. मेरा दिल ख़ुसी से बोहोत ही ज़ोर से धड़कने लगा और मुझे फॉरन ही सतीश का ख़याल आ गया.

क्रमशः......................

Recession Ki Maar part--29

gataank se aage..........

DK ne meri betaabi dekh li aur phir mere chootado ko masal te

masalte apne Lund ke suapde ko choot ke ander baher kar rahe the aur phir unke 2 action ek sath hue. Unho ne apne lund ko thoda sa baher khecha aur mere chootado ko zor se pakad ke itni zor se apni taraf khencha ke unka Lund meri geeli choot ko cheerta hua poora jad tak ghuss gaya aur mai chilla padi ssssssssssssssssss mmmmaaaaaaaaarrrrrrrrrrr dddddddaaaaaaaallllllaaaaaaaa DDDDDDDD KKKKKKKKKKK aaaaaaarrrrreeeee ppppppphhhhhhhaaaaaaaatttttt gggaaaayyyyeeeee hhhhhhhhaaaaaeeee mmmmeeeeiiiii mmmmmaaaarrrrriiiiii aur meri gand table se slip ho gayee aur mere hath unke shoulders mai dal ke mai unse chipak gayee. Mera sara badan takleef ki wajah se paseene se bhar gaya mere boobs unke choude balo bhare seene se lag ke chipak gaye. Mai apni tangein unke back pe dale unko tight pakad lia. DK ek bohot hi powerful aadmi the aur unho ne mujhe kisi choti si bachi ki tarah se utha lia aur ghacha ghach chodne lage. Mai unke missile pe hi uchalne lagi. Aisi hi 5 mintue chodne ke bad unho ne mujhe deewar se tika dia aur iss buri tarah se aur itni zor zor se chodne lage ke meri aankho se aansoo nikal ne lage aur mujhe laga jaise unka Lund meri choot se hota hua deewar mai ghus jayega. Mai chillati rahi aur jhadti rahi aur wo mujhe chodte rahe. Mai shaed 3 ya 4 baar jhad chuki thi aur mere jhadne se meri choot bohot hi geeli ho gayee thi par DK ke Lund se malayee nikalne ka naam hi nahi le rahi thi.

Thodi der aise hi deewar se tika chodne ke bad wo mujhe apne Lund ki sawari karate karate khud neeche utar dia aur mujhe palta dia aur mai mai wahi rakhe ek cupboard ka sahara le ke khadi ho gayee aur DK ne peeche se apna Musal Lund meri choot mai ghusa dia aur mujhe chodne lage. Mujhe takleef

DK ne peeche se apna Musal Lund meri choot mei ghusa dia

To ho rahi thi par maza us se ziada aa raha tha. Unke Lund jab meri clitoris se ragad kha ke ander jata to mai jhadne lagti. Pata nahi unka Lund konse material se bana tha jo bass chodna janta tha kabhi soft nahi hota tha. Thodi der aise hi chodne ke bad meri ek tang utha di aur kareeb rakhe table pe rakh dia aur mujhe chodne lage.

DK meri ek tang samne rakhe table pe rakh ke mujhe peeche se chodne lage.

Meri choot poori tarah se khul chuki thi aur wo mujhe zor zor se chod rahe the. Meri choot se har thodi der ke bad juice aise niklata jaise garam garam lawa nikal raha ho. Phir thodi der aise hi chodne ke bad mujhe ek bar phir palta dia aur ek hi jhatke se mujhe apni godi mei utha lia aur reflex action mai hi mei unke badan se chipak gayee aur unke Lund pe baith gayee. Unke Lund meri choot mai aise aasaani se ghus gaya jaise garam garam churi makkhan mai ghusti hai.

Mujhe apne Lund pe uchal uchal ke wo chodne lage. Thodi der ke bad mujhe apne badan se liptaye hue wo neeche let gaye aur mujhe apne ooper le lia. Mai unke Lund pe baithi thi aur mere tangein ghutne se mudi hui unke badan ke dono taraf thi. Ab mai unko chod rahi thi aur wo mere uchalte boobs ko apne hatho se masal rahe the. Mujhe jhuka ke mere boobs ko choosne lage. Unke Lund mujhe apne halak ke ander mehsoos hone laga. Mai bhi poori masti se unke Lund pe uchal kood kar rahi thi. Mujhe DK ka Lund apni choot mai phoolta hua mehsoos hua aur ek hi second ke ander bina Lund nikale mujhe palta dia aur mere ooper chhad ke aa gaye aur apne pair peeche cupboard se tika ke poori takat se chodne lage. Unke har dhakke se meri choot mai ek ajeeb sa darad aur ek ajeeb sa maza aa raha tha aur mujhe laga jaise meri choot phat jayegi aur shaed ander ke muscles waghaira bhi damage ho jaye aur phir ek jhatka itni zor se mara ka mere muh se cheekh hi nikal gayee uuuuuuuiiiiiiiiiiiiiiiii mmmmmm aaaaaaaaaaaaaaaa hhhhhhhh aaaaaaaaaa eeeeeeeee aur idhar unke Lund se garma garam gaadhi gaadhi malayee ka fawwara chhot pada aur meri choot ko bharne laga aur udhar meri choot ka baandh bhi toot gaya aur mai bhi unse lipat ke jhadne lagi. Unke Lund se bohot der tak thodi thodi malayee nikalti hi gayee. Mujhe laga jaise mere badan se jaan hi nikal gayee mere hath pair dheele ho gaye aur DK bhi mere badan pe dher ho gaye.

Thodi der tak ham dono gehri gehri saansein lete aise hi ek doosre se lipte pade rahe. Unka Lund meri choot ke ander itna phool ke mota ho chuka tha ke mujhe aisa lag raha tha jaise meri choot phat ke burst ho jayegi. Thodi der wo mere ooper aise hi pade rahe. Unka Lund abhi bhi soft nahi hua tha. Mere ooper lete hi lete unho ne mujhe pakad lia aur roll ho gaye. Ab position aisi thi ke mei unke ooper thi aur unka musal meri choot ke ander. Abhi tak ham dono ka mix juice meri choot ke ander hi phansa hua tha unka Lund meri choot ke ooper kisi bottle ke cork ki tarah se tight seal ho gaya tha. Mai jhuk ke unko choomne lagi aur boli ke wah kia shandaar Lund paya hai mere DK jaan ne and I feel I am lucky to have this iron hard rod to wo muskura diye aur bole ke Sneha you are the best really I love you so much. Itna sunte hi mujhe unpe itna pyar aaya ke bata nahi sakti aur mai ne hath badha ke table se contract aur pen utha lia aur jaise unho ne mere seene pe appointment letter sign kia tha bilkul usi tarah se mai ne bhi unke seene pe contract rakh ke sign kar dia aur bola ke aaj si mai tumhari dasi hu aur tum mere bhagwan.

Mai tumhari seva aise karungi jaise tum mere bhagwan ho to unho ne mujhe jhuka ke choom lia aur mere kaan mei dheere se bola ke I really love you Sneha ab tum dekhna ke mai tumhai kaha se kaha pohocha deta hu tum mala maal ho jaogi paiso mai khelne lagogi to maine jhuk ke unke muh mai pani jeebh dal ke kiss kia aur dheere se unke kaan mai bola ke mujhe paisa nahi mujhe to tumhara musal chahiye apni choot ke ander mujhe aur kuch nahi chahiye. Mujhe apni dasi bana ke rakho please. Tumhari har tarah se seva karna mera dharam hai ab.

Ham dono ek doosre se lipta aise hi pyar kar rahe the ke mujhe kuch aahat mehsoos hui, jaise koi ander aaya ho to mai chounk gayee to DK ne mere taraf dekhte hue dheere se aankhein band kar ke khol li jiska matlab tha relax kuch nahi hoga to mai relax ho gayee. Kisi ke chalne ki awaz ayee aur mei ne dekha ke aane wala koi aur nahi mera Rajjj hai. Pehle to mai ek dum se darr gayee aur DK ke Lund se uthna hi chah rahi thi ke DK ne mujhe kass ke tight pakad lia aur apni tango se mujhe lapet lia jiski wajah se mai uth nahi payee. Rajj ko dekhte hi mere paseene chhoot gaye. Rajj ne muskurate hue kaha ke Congratulations Sneha you got the job. Mai ne thanks bola par abhi bahi mei dar rahi thi ke DK ne bola ke Sneha yehi hai tumhara secret admirer aur secret recommendation karne wala. Yeh Rajj hai mera partner. Mere muh se ek thandi aur shukriya bhari aaahhh nikal gayee aur mai ne Rajj ko thanks bola. Thanks for every thing Rajjj. Meri samajh mai nahi aa raha tha ke kaise react karu. Itne mai DK ne Rajj se bola ke come on yaar khade khade kia dekh rahe ho aa jao dekho breakfast ready hai kuch breakrast Sneha ko karao kuch tum karo. Itna sunte hi Rajj mere samne aa ke khada ho gaya aur mai ne uske pant ki zip khol ke uske lambe mote Lund ko baher nikal lia. Thodi der tak usko pyar se sehlaati rahi phir uske Lund ke head ko kiss kia aur phir usko choosne lagi.

Rajj ne apne kapde utar diye aur mei ne uska pant khol dia jo neeche zameen pe gir pada to usne pair se usko kareeb padi chair pe uchal dia aur mere samne nanga ho ke khada ho gaya. Rajj ka Lund bhi fully erect tha jise mai ne choosna shuru kar dia. Thodi hi der mai DK ne apna Lund meri choot se baher nikal lia aur mujhe laga jaise meri choot se koi samandar baher nikal ke behne laga itna bohot mix juice nikla. Position change karte hue DK ne Rajj se bola ke mujhe pata hai ke tumhara Lund kitna bhooka hai ab tum iski choot mai apne Lund dalo aur isko chod dalo. DK apni jagah se uth gaye aur mere muh

mai apna mota Lund dal dia. Unka Lund hamare pyaar ke juice se full sana hua tha jise mai apne muh mai le ke choosne lagi. Bohot hi tasty tha hamara juice jise mai bohot hi maze se chatkhaare le le ke choosne lagi.

Rajj ne foran hi apne Lund meri choot mai pel dia. Rajj ka Lund meri choot mai aur DK ka Lund mere muh mai. Doble pleasure.

Rajj ka Lund choot mai aur DK ka mota Lund mere muh mai. Double pleasure.

Thodi hi der mai mujhe doggy style mai kar dia aur Rajj ne peeche se apne Lund meri choot mai dal dia aur DK mere samne aa ke khade ho gaye aurmai unke Lund ko choosne lagi.

Rajj peeche se chod rahe hai aur mai DK Ka Lund choos rahi hu

Rajj ne peeche se mujhe chodna shuru kia. Mai DK ka Lund choosne lagi

Rajj ne mujhe zor zor se chodna shuru kar dia. Uske dhakke bohot hi tez hote chale gaye. Jaise jaise uske dhakke tez hote DK ka Lund mere halak tak ghus jata. Phir ek dhakka itni zor se mara ke mere mujh se cheekh hi nikal gayee aur mei apni aapko sambhaal na payee aur DK ke badan pe ja giri. Foran hi DK ne apna Lund meri choot mai ghusa dia aur Rajjj peeche se aa ke meri gand mai apna Lund ghused dia.

DK ka musal meri gand mai aur Rajj ka Lund meri choot mai

Yeh dono mil ke mujhe badi bedardi se chodne lage. Dono ke dhakke synchorize ho gaye the aur meri choot se continue juice nikal raha tha. Yeh meri zindagi ka pehle 3some tha do do musal aur tagde tagde Lund meri choot aur gand ki dhunayee kar rahe the aur mai bebasi se dono ke Lundo se chudi chali ja rahi thi. Aise 3some mei mujhe bohot maza aa raha tha. Dono ke Lund jab meri Choot aur Gand ke darmiyan ki patli si jhilli se ragad khate hua ander baher hote to mai apne pleasure ki seema bayan nahi kar sakti. Mujhe mano jannat ka maza aa raha tha.

DK aur Rajj meri Choot aur Gand ko ek sath chod rahe the.

Rajj aur DK milke mujhe ghacha ghach chod rahe the. Kisi ka Lund ander jata to doosre ka baher aata. Kia batau kitna maza aa raha tha aur mai masti mai bhari hui thi aur choot ka to poocho hi nahi. Choot ka baandh toot chuka tha aur continue juice nikal raha tha. Dono ke dhakke ab toofani speed mai chal rahe the aur meri jaan nikli ja rahi thi. Mera jod jod dukh raha tha jaise mere badan mai jaan hi na ho par mai dono ke dhakko ko bardasht kar rahi thi aur dono ke beech sandwich bahi chudwa rahi thi. Thodi der ke bad hi dono ne itni buri tarh se chodne shuru kia ke meri aankho se aansoo behte chale gaye aur meri choot aur gand dono mai se khoon bhi nikal ne laga aur

phir mere hath pair dheele pad gaye aur mai bina harkat kare dono ke beech padi chudwati aur gand marwati rahi. Dono ne hi ek ek itna powerful dhakka mara aur apne Lundo ko meri choot mai aur meri gand mai gaadh dia aur apni apni malayee ka fawwara meri gand aur choot mai chhodne lage. Mai kisi murda chipkali ki tarah dono ke beech padi rahi. Mera sara badan dukh raha tha aur dimagh mai sayen sayen ho rahi thi jaise na mujhe kuch nazar aa raha tha aur na hi kuch dikhayee de raha tha. Thodi der tak ham teeno aise hi pade rahe aur jab dono ne apne apne Lund meri choot aur gand se baher nikale to sach mai hi dono se khoon ki boondein tapakne lagi jise dekh ke dono hi muskura uthe aur dono ne mujhe ek sath hi kiss kia aur mujhe neeche se uthaya aur mujhe sahara de ke ander wale kamre le gaye jaha mai ne garam pani se shower lia to thodi der ke bad meri jaan mai jaan ayi. Mai shower se baher aa gayee aur towel lapete hi lapeti langdaate hue office ke section mei ja ke apne kapde uthaye aur pehen liye.

DK aur Rajj dono ne almost ek hi awaz mai kaha "CONGRATULATIONS SNEHA. WELCOME TO RK INDUSTRIES" to mere muh pe ek satisfactory aur itmenaan bhari muskaan aa gayee. Mai dono se lipat gayee aur bola "THANKS FOR EVERYTHING RAJJ AND DK" AAJ SE MAI TUM DONO KI DAASI HU AUR TUM DONO KI SEVA KARNA MERA DHARAM HOGA AUR MEI APNE DHARAM KA PALAN ZAROOR KARUNGI" aur phir ham teeno mil ke champaign peene aur celebrate karne lage. Dono ka iss tarah se mere sath treat karna mujhe bohot hi acha laga aur mujhe dono pe pyar aa gaya aur meri aankh se khushi ke aansoo nikal ne lage.

Mai office mai kaam karne lagi. DK ne poocha ke tum housing logi ya tumhai flat chahiye to mai ne bola ke DK abb iss time to mujhe paise ko bohot hi zaroorat hai mujhe paisa hi chahiye laikin mera probation period khatam hone tak mere pas kuch amount aa jayegi jis se hamara thoda kaam chal jayega to phir probation period ke bad tum mujhe accommodation de dena to usne bola ke koi bat nahi. Ek kaam karte hai mai tumhare liye flat approve kar deta hu aur 3 months ki advance housing le lena to mai khushi se us se lipat gayee aur mai itni khush ho gayee ke mujhe se yeh khushi sambhali nahi ja rahi thi. Mera dil khusi se bohot hi zor se dhadakne laga aur mujhe foran hi Satish ka khayal aa gaya.

kramashah......................


rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: Recession Ki Maar -रिसेशन की मार

Unread post by rajaarkey » 13 Dec 2014 16:36

रिसेशन की मार पार्ट--30

गतान्क से आगे..........

मुझे ऑफीस का काम समझने मे ऑलमोस्ट 2 महीने लग गये और मैं अपने काम मे पर्फेक्ट हो गयी. डीके का डेली रुटीन यह था के जैसे ही वो ऑफीस मे आते पहले मेरी चूत की सेवा करते और फिर काम करते. कभी कभी तो जब काम ज़ियादा नही होता तो खुद भी नंगे हो जाते और मुझे भी नंगा करके अपने खड़े लंड पे बिठा लेते और हम ऐसे ही मस्तियाँ करते रहते. और जब कही वो टूर पे जाते तो मैं भी उनके साथी ही जाती. अभी टेक के टाइम देल्ही और कानपुर ही गये थे. जब बाहर का टूर होता तो हम एक ही रूम मे रहते और दूसरे रूम का जो रेंट रहता उसकी इन्वाइस ऑफीस मे सब्मिट कर देते और इन्वाइस अमाउंट मुझे दे देते तो मेरी अछी ख़ासी इनकम हो जाती. मैं उनके साथ बोहोत ही खुश थी और मुझे अपनी वाइफ जैसा ही ट्रीट करते. इन्न दो महीनो मे अछी ख़ासी अमाउंट बन गयी थी जिसे मैं ने सतीश के अकाउंट मे ट्रान्स्फर करवा दिया. सतीश भी बोहोत ही खुश हो गया और अपने कर्ज़े फ़ेड़ने मे जुट्ट गया. उधर उर्मिला और सतीश पति पत्नी की तरह से रह रहे थे और दोनो ही एक दूसरे से खुश थे. उर्मिला के हज़्बेंड का वाकेशन अभी एक साल और था इसी लिए इतमीनान था.

तीसरे महीने मे हमारा 3 दिन का बॅंगलुर का टूर बना तो मैं ने डीके से बोला के मुझे अपने हज़्बेंड से मिलने दोगे क्या तो उसने बोला के अरे इसमे पूछने की क्या बात है ज़रूर जाना लैकिन रात मे वापस आजाना. अपने खड़े लंड की तरफ इशारा कर के बोले क्यॉंके इसे तुम्हारी मस्ती भरी टाइट चूत की आदत पड़ गयी है यह क्या करेगा तो मैं ने उनके खड़े लंड को अपने हाथो मे पकड़ के दबाया और मुस्कुरा के बोला इसकी फिकर आप क्यों करते है मैं आपके लिए एक नयी चूत का बंदोबस्त कर दूँगी तो डीके का मूह हैरत से खुल गया और पूछा "क्या मतलब" तो मैं ने उनको उर्मिला के बारे मे बताया और उनके लंड को ज़ोर से दबाते हुए बोला के वो मेरी पक्की और बचपन की फ्रेंड है और जब मैं ने आपके इस शानदार लंड के बारे मे बोला तो उसने खुद ही यह मूसल लंड से चुदने की इच्छा ज़ाहिर किया तो डीके मुस्कुरा के बोले के ठीक है तुम्हारी फ्रेंड की चूत की भी सर्विसिंग कर देंगे पर तुम्हारा क्या ख़याल है वो मेरे लंड को झेल पाएगी तो मैं ने बोला के हा कर लेगी वो भी एक नंबर की चुड़क्कड़ है, कॉलेज लाइफ मे ही वो थोड़े क्लासमेट्स से चुदवा चुकी है. अब उसकी शादी हो गयी है पर उसका हज़्बेंड गल्फ मे काम करता है और इधर मेरे हज़्बेंड की तबीयत ठीक नही थी इसी लिए अब वो दोनो साथ साथ ही रहते है तो डीके ने आँख मार के बोला के इसका मतलब है के तुम्हारा हज़्बेंड तुम्हरे फ्रेंड की चुदाई भी करता है तो मे ने बोला के हा मैं ने ही यह अरेंज्मेंट किया है क्यॉंके दोनो अकेले थे सतीश को भी एक सहारे की ज़रूरत थी और मेरी फ्रेंड को भी, इसी लिए वो दोनो अब साथ ही रहते है और उन दोनो को मेरे और तुम्हारे बारे मे भी सब पता है. डीके ने एक बोहोत ही

लंबी साँस ली और मेरी तरफ देखने लगे तो मैं ने बोला के हा आक्च्युयली मैं ने पहले ही अपने पति की पर्मिशन ले ली थी और पूछा था के अगर ऐसा मौका आए के मुझे जॉब हासिल करने के लिए चुदवाना पड़े तो क्या करू तो मेरे पति ने बोला के देखो अभी हमको पैसो की सख़्त ज़रूरत है और तुम शादी शुदा भी हो चुदी चुदाई भी हो, तुम्हारी चूत कोई वर्जिन चूत नही है अगर एक और लंड से चुदवलोगी तो कोई प्राब्लम नही होगी. कोई बात नही अगर ऐसा कोई टाइम आए तो जस्ट गो अहेड आंड डू वॉटेवर यू कॅन डू टू गेट दिस जॉब. मेरे इतना बोलने तक डीके मेरी तरफ्ह टिक टिकी बाँधे देखते रहे. और फिर मुझे अपनी बाँहो मे समेत के मुझे किस करने लगे और बोले के स्नेहा यू आर दा बेस्ट, तुम बोहोत ही अछी हो मेरी जान. तुम्हारा दिल बोहोत ही सॉफ है. मेरे दिल मे तुम्हारी इज़्ज़त अब और बढ़ गयी है. तुम ने अपनी फॅमिली के प्रॉब्लम्स को सॉल्व करने मे अपनी पति की बोहोत मदद की है. तुम एक बोहोत ही शानदार औरत हो और अपने पति के लिए क्या क्या कर दिया तुम ने तो मैं ने बोला के आक्च्युयली मुझे ट्रॅवेल के दरमियाँ राज मिल गया था और मैं बोहोत दीनो से चुदी भी नही थी क्यॉंके मेरे पति की तबीयत ठीक नही थी और करीब 3 महीने से मुझे चोदा नही था और रास्ते मे जब राज से मुलाकात हुई और मैं उसकी जवानी पे मर मिटी और फिर रास्ते मे ही आक्सिडेंटली उस से चुदवा भी लिया. राज ने मुझे जॉब के लिए हेल्प करने का वादा किया था और मुझे इस होटेल मे रूम का बंदोबस्त भी राज ने ही किया था अपने एक्सपेन्स पे. और अब तुमको तो पता ही है के मेरा इंटरव्यू ऐसा लिया तुमने के मेरी जान ही निकाल दी और मेरी चूत और गंद दोनो को फाड़ के सत्यानस कर्दिआ और बदले मे मुझे जॉब दिया. इतना बोलते बोलते मैं उस से एक बार फिर से लिपट गयी और उसको किस करने लगी. मैं ने देखा के डीके की आँखो मे एक नयी चूत को चोदने की चमक आ गयी थी.

मैं और डीके सुबह की फ्लाइट से बॅंगलुर आ गये और होटेल मे चेक इन करने के बाद दोनो काम पे निकल गये. मैं ने घर फोन कर दिया था और सतीश को बोल दिया था के मैं शाम मे आने वाली हू तो वो बोहोत ही खुश हो गया और फिर मैं ने उर्मिला से बात की और उसको बोला के वो शाम 8 बजे तक यहा होटेल आ जाए और डिन्नर साथ ही कर ले तो उसकी खुशी का ठिकाना नही था और सोच रही थी के अब तक तो स्नेहा से डीके के लंड की तारीफ ही सुनती आए थी पर आज देखने और चुदने का मौका मिलेगा. उर्मिला तो फॉरन ही रात की तय्यरी मे लग गयी. मैं ने पहले ही बोल दिया था के डीके और राज दोनो को ही एक दम से चिकनी बेबी चूत बोहोत पसंद है तो वो रगड़ रगड़ के अपनी चूत के बॉल सॉफ करने मे लग गयी और शाएद 3 टाइम क्रीम लगा के अपनी चूत को चिकना किया. अब उसकी चूत सच मे बेबी चूत लग रही थी.

उर्मिला टाइम से थोड़ा पहले ही हमारे होटेल पोहोच गयी. मैं ने डीके और उर्मिला का इंट्रोडक्षन करवाया. थोड़ी देर हसी मज़ाक किया और खुल के डीके से बोल दिया के यह मेरी फ्रेंड है उर्मिला जिसका जीकर मैं बार बार आपसे बोलती रहती हू. यह मेरी बोहोत ही अछी और पक्की फ्रेंड है इस ने मेरे और मेरे पति के लिए वो किया है जो शाएद कोई और लड़की नही कर पाती तो उर्मिला मुझ से लिपट गयी और प्यार करते बोला के अरे मेरी स्नेहा जान तेरे लिए तो मैं वो सब कर सकती हू जिसका तू सोच भी नही सकती और आँख मार के खुल के बोली के अरे तू बोलेगी तो मैं तुम्हारे एमडी से क्या किसी से भी चुदवा लेगी तो डीके हस्ने लगे और बोले के ठीक है उसका भी मैं कल इंतेज़ाम कर दूँगा तो मेरी समझ मे कुछ नही आया और फिर हम तीनो मिल के हस्ने लगे. मैं ने डीके से बोला के आप ऊर्मि के साथ डिन्नर लेलो और उसके बाद ऊर्मि की चूत का बजा बजा दो तो फिर से उर्मिला हस्ने लगी और बोली के चल अब तू जा वहा सतीश खड़े लंड से तेरा वेट कर रहा है. डीके ने भी बोला के हा स्नेहा अब तुम जाओ लैकिन कल सुबह 8 बजे तक आ जाना कल हमारी 10 बजे मीटिंग है कुछ तय्यरी भी करनी है. मैं ने बोला के कोई बात नही मैं आ जाउन्गी और बाहर निकल गयी.

उधर डिन्नर के बाद डीके उर्मिला को ले के अपने रूम मे चले गये. उर्मिला बोहोत ही फ्रेंड्ली नेचर की लड़की थी इसी लिए डिन्नर से पहले ही दोनो अछी तरह से घुल मिल गये थे. उर्मिला को जब भी मौका मिलता वो लंड चूत और चुदाई जैसे शब्द से डीके का दिल जीत लेती थी और दोनो अब पक्का सेक्सी बातें करने लगे थे. डिन्नर के बाद जैसे ही वो दोनो कमरे मे गये. उर्मिला डीके से ऐसे लिपट गयी जैसे बरसो से जानती हो. डीके और वो दोनो पॅशनेट किस करने लगे और 5 मिनिट के अंदर ही दोनो के दोनो नंगे हो चुके थे. डीके का मूसल देखते ही उर्मिला की आँखें हैरत से फटी की फटी रह गयी और उसने उनके लंड को अपने हाथो मे वेट करते करते पूछा स्नेहा ने इस लंड से चुदवाया है तो डीके ने हा बोला तो उसको यकीन नही आया उसने फिर पूछा तो फिर भी डीके ने बोला के हा उसने इसी लंड से चुदवाया है और गंद भी मरवाई है और इसकी सारी मलाई भी खाई है. उर्मिला नीचे बैठ गयी और डीके के लंड को चूसने लगी.

उर्मिला डीके का लंड चूस्ते हुए

डीके भी फुल मूड मे आ गये थे. उर्मिला के बूब्स भी मेरे बूब्स से थोड़े बड़े थे और उसका बदन भी बोहोत सॉफ्ट और गोरा था. डीके उर्मिला का सर पकड़ के उसके मूह को चोदने लगे और कभी कभी तो इतनी ज़ोर से उसके हलक मे लंड घुसा देते के उसको खाँसी आ जाती. उर्मिला भी बड़ी मस्ती मे लंड चूस रही थी. उर्मिला के ऐसा मस्ती मे लंड चूसने से डीके भी जल्दी ही रेडी हो गये और पूरी ताक़त से अपने लंड को उर्मिला के हलक के अंदर तक उतार दिया उर पिचकारियाँ मार के उसके पेट मे डाइरेक्ट डालने लगे. उर्मिला के थ्रोट के अंदर उनका लंड घुसते ही उर्मिला ने साँस लेना बंद कर दिया था और उसका मूह तकलीफ़ से लाल हो गया था. पर थोड़ी ही देर मे डीके ने अपना लंड बाहर निकाल लिया तो उर्मिला को कुछ सुकून मिला. अब डीके ने उरिमला को बेड पे लिटाया और खुद नीचे बैठ गये और उसकी टाँगें अपने शोल्डर्स पे रख के उसकी चूत के चारो तरफ अपनी जीभ घुमा के उसको मज़ा देते रहे. उर्मिला के दोनो हाथ डीके के सर पे थे और वो बार बार अपनी चूत उठा उठा के डीके के मूह मे अपनी चूत को घुसेड़ना चाह रही थी पर डीके उसको तड़पाने पे तुले हुए थे. उर्मिला की चूत से ऐसे ही जूस बहने लगा. थोड़ी देर के बार उर्मिला की पूरी चूत को अपने मूह मे भर लिया और अपने दांतो से चबाने लगे तो उर्मिला दीवानी हो गयी और उनके बालो को पकड़ के उनके सर को अपनी चूत मे बहुत ज़ोर से घुसा लिया और उनके मूह मे झड़ने लगी. और फिर डीके अपनी जगह से उठ कर उर्मिला के ऊपेर झुक गये तो ऑटोमॅटिकली उर्मिला की टाँगें उनके कमर से लिपट गयी और फिर उर्मिला ने अपना हाथ बढ़ा के डीके के लंड के डंडे को ज़ोर से दबाया और थोड़ा आगे पीछे किया और अपनी चूत के अंदर लंड के सूपदे को रगड़ने लगी.

डीके का लंड उर्मिला की चूत फाड़ने को तय्यार. उर्मिला बोहोत खुश है

उसकी चूत बोहोत ही लाल हो चुकी थी. डीके के लंड का सूपड़ा स्लिप हो के उसकी चूत के सुराख मे अटक गया तो उसके मूह से सस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सस्स निकल गया और एक मिनिट के लिए उसका बदन अकड़ गया तो डीके ने हस्ते हुए बोला के अभी तो सिर्फ़ हेड ही गया है मेरी जान तो उसने बोला के अरे कोई बात नही लगता है आज मेरी चूत का भुर्ता बनने वाला है और मेरी चूत ऐसी कातिलाना चुदाई के लिए तय्यार है. डीके हस्ने लगे और थोडा से लंड को चूत के अंदर पुश किया तो उसके मूह से चीख निकल गयी ऊवूवुयियैआइयीयीयियी म्‍म्म्मममाआआआआआअ और फिर डीके अपने आधे ही लंड से ऊर्मि को चोद्ते रहे तो उर्मिला ने समझा के शाएद उसकी चूत ने पूरा लंड खा लिया है और डीके की तरफ ऐसे देखने लगी जैसे बोल रही हो के देखो मेरी चूत ने तुम्हारा सारा लंड अपने अंदर ले लिया तो डीके उसकी नज़र को समझ गये और बिना कुछ बोले उसके ऊपेर पूरा झुक गये, उसके शोल्डर्स को टाइट पकड़ लिया और अपने लंड को पूरा हेड तक बाहर खेच लिया और इस से पहले के उर्मिला कुछ समझ पाती इतनी ज़ोर से लंड को उसकी चूत के अंदर घुसेड़ा के वो बोहोत ही ज़ोर से चिल्लाई ऊऊओईईईईईइ म्‍म्म्ममाआअ म्‍म्म्मममाआआररर्र्ररर डड्ड्ड्डयायाऑल्ल्लायाआयाया र्रररीईए म्‍म्म्मईएईईईई एम्ममाययाआर्रियियीयियी न्न्नीईइक्क्क्क्काआल्ल्ल्लूऊऊ ब्ब्ब्बाअहहीएरररर प्प्प्प्ल्ल्ल्लीईएआआसस्स्स्सीईए और अपनी टांगो से और अपने हाथो से डीके को टाइट पकड़ लिया. उर्मिला की आँखो से आँसू निकलने लगे, उसका चेहरा पूरा लाल हो गया और साँस बंद हो गयी. उसकी चूत पूरी तरह से फॅट चुकी थी. उसकी चूत के चॅम्डी डीके

के लंड से चिपकी हुई थी. डीके का लंड उर्मिला की चूत फाड़ता हुआ उसकी बच्चे दानी के मूह मे घुस गया था. डीके थोड़ी देर तक उसके ऊपेर ऐसे ही पड़े रहे फिर धीरे धीरे धक्के मारने लगे.

डीके उर्मिला को डॉगी स्टाइल मे चोदने लगे

उर्मिला का बदन थोड़ी देर तक तो टाइट रहा फिर उसको भी मज़ा आने लगा और वो अपनी गंद उचका उचका डीके का लंड अपनी चूत मे लेने लगी. डीके का लंड उर्मिला की चूत मे बोहोत ही टाइट जा रहा था जैसे पहले पहले मेरी चूत मे टाइट जाता था फिर थोड़ी ही देर मे उर्मिला की चूत डीके के लंड से अड्जस्ट हो गयी और मज़े से चुदवाने लगी. तकरीबन हर 8 – 10 धक्को के बाद उर्मिला की चूत झाड़ जाती थी और चूत के जूस से उसकी चूत कुछ और स्लिपरी हो जाती थी. थोड़ी ही देर मे डीके तूफ़ानी रफ़्तार से चोदने लगे, सारा बेड बोहोत ज़ोर ज़ोर से हिलने लगा. ऐसा लग रहा था जैसे डीके दीवाने हो गये हो और उसको दीवानो की तरह से चोद रहे थे और फिर देखते ही देखते डीके का लंड उर्मिला की चूत मे फूलने लगा. उर्मिला काफ़ी चुदी चुदाई थी फॉरन समझ गयी के अब डीके का फव्वारा छूटने वाला है तो उसने डीके के चूतदो को हाथो से पकड़ लिया और अपनी टाँगों से भी डीके के चूतदो को अपनी ओर खेचने लगी और अपनी चूत उठा उठा के बड़ी मस्ती मे चुदवाने लगी. उसकी आँखें मस्ती मे बंद हो गयी थी और एक फाइनल झटका इतनी ज़ोर से मारा के उर्मिला फिर से चिल्लाई हहाआआआआईईईई सस्स्स्स्स्स्स्स्स्सस्स फफफफफफफफफफफफ्फ़ उसकी आँखें अपने सॉकेट मे ऊपेर चढ़ गयी और उसकी आँख से एक बार फिर से आँसू निकलने लगे और डीके का लंड जैसे उसके पेट मे घुस के उसके हलक तक आ गया और लंड से मलाई का फव्वारा ऐसे लगा जैसे उसकी चूत के अंदर फ्लड आ गया हो. उनकी मलाई की पहली बूँद के

साथ ही वो फिर से झड़ने लगी. दोनो गहरी गहरी साँसें लेने लगे. डीके उर्मिला के बदन पे कोलॅप्स हो गये उनका लंड बिना सॉफ्ट हुए ऐसे ही एरेक्षन पोज़िशन मे उर्मिला की चूत के अंदर फूल पिचकने लगा.

क्रमशः......................

Recession Ki Maar part--30

gataank se aage..........

Mujhe office ka kaam samajhne mai almost 2 mahine lag gaye aur mai apne kaam mai perfect ho gayee. DK ka daily routine yeh tha ke jaise hi wo office mai aate pehle meri choot ki seva karte aur phir kaam karte. Kabhi kabhi to jab kaam ziada nahi hota to khud bhi nange ho jate aur mujhe bhi nanga karke apne khade Lund pe bitha lete aur ham aise hi mastiyan karte rehte. Aur jab kahi wo tour pe jate to mai bhi unke sathi hi jati. Abhi take k time Delhi aur Kanpur hi gaye the. Jab baher ka tour hota to ham ek hi room mai rehte aur doosre room ka jo rent rehta uski invoice office mai submit kar dete aur invoice amount mujhe de dete to meri achi khasi income ho jati. Mai unke sath bohot hi khush thi aur mujhe apni wife jaisa hi treat karte. Inn do mahino mai achi khasi amount ban gayee thi jise mai ne Satish ke account mai transfer karwa dia. Satish bhi bohot hi khush ho gaya aur apne karze phedne mai jutt gaya. Udhar Urmila aur Satish pati patni ki tarah se reh rahe the aur dono hi ek doosre se khush the. Urmila ke husband ka vacation abhi ek saal aur tha isi liye itmenaan tha.

Teesre mahine mai hamara 3 din ka Bangalore ka tour bana to mei ne DK se bola ke mujhe apne husband se milne doge kia to usne bola ke arey ismei poochne ki kia baat hai zaroor jana laikin raat mei wapas aajana. Apne khade Lund ki taraf ishara kar ke bole kyonke ise tumhari masti bhari tight choot ki aadat pad gayee hai yeh kia karega to mai ne unke khade Lund ko apne hatho mai pakad ke dabaya aur muskura ke bola iski fikar aap kyon karte hai mai aapke liye ek nayee choot ka bandobast kar dungi to DK ka muh hairat se khul gaya aur poocha "Kia Matlab" to mai ne unko Urmila ke bare mai bataya aur unke Lund ko zor se dabaate hue bola ke wo meri pakki aur bachpan ki friend hai aur jab mai ne aapke iss shandaar Lund ke bare mai bola to usne khud hi yeh musal Lund se chudne ki iccha zahir kia to DK muskura ke bole ke theek hai tumhari friend ki choot ki bhi servicing kar denge par tumhara kia khayal hai wo mere Lund ko jhel payegi to mai ne bola ke haa kar legi wo bhi ek number ki chudakkad hai, college life mai hi wo thode classmates se chudwa chuki hai. Ab uski shadi ho gayee hai par uska husband Gulf mai kaam karta hai aur idhar mere husband ki tabiyat theek nahi thi isi liye ab wo dono sath sath hi rehte hai to DK ne aankh mar ke bola ke iska matlab hai ke tumhara husband tumhre friend ki chudai bhi karta hai to mei ne bola ke haa mai ne hi yeh arrangement kia hai kyonke dono akele the Satish ko bhi ek sahaare ki zaroorat thi aur meri friend ko bhi, isi liye wo dono ab sath hi rehte hai aur un dono ko mere aur tumhare bare mai bhi sab pata hai. DK ne ek bohot hi

lambi saans li aur meri taraf dekhne lage to mai ne bola ke haa actually mei ne pehle hi apne pati ki permission le li thi aur poocha tha ke agar aisa mouka aye ke mujhe job hasil karne ke liye chudwana pade to kia karu to mere pati ne bola ke dekho abhi hamko paiso ki sakht zaroorat hai aur tum shadi shuda bhi ho chudi chudai bhi ho, tumhari choot koi virgin choot nahi hai agar ek aur Lund se chudwalogi to koi problem nahi hogi. Koi bat nahi agar aisa koi time aye to just go ahead and do whatever you can do to get this job. Mere itna bolne tak DK meri tarafh tik tiki baandhei dekhte rahe. Aur phir mujhe apni baho mai samet ke mujhe kiss karne lage aur bole ke Sneha you are the best, tum bohot hi achi ho meri jaan. Tumhara dil bohot hi saaf hai. Mere dil mai tumhari izzat ab aur badh gayee hai. Tum ne apne family ke problems ko solve karne mai apni pati ki bohot madad ki hai. Tum ek bohot hi shandar aurat ho aur Apne pati ke liye kia kia kar dia tum ne to mai ne bola ke actually mujhe travel ke darmiyan Rajj mil gaya tha aur mai bohot dino se chudi bhi nahi thi kyonke mere pati ki tabiat theek nahi thi aur kareeb 3 mahine se mujhe choda nahi tha aur raste mai jab Rajj se mulakat hui aur mai uski jawani pe mar miti aur phir raaste mai hi accidentally us se chudwa bhi lia. Rajj ne mujhe job ke liye help karne ka wada kia tha aur mujhe iss hotel mai room ka bandobast bhi Rajj ne hi kia tha apne expense pe. Aur ab tumko to pata hi hai ke mera interview aisa lia tumne ke meri jaan hi nikal di aur meri choot aur gand dono ko phad ke satyanas kardia aur badle mai mujhe job dia. Itna bolte bolte mai us se ek bar phir se lipat gayee aur usko kiss karne lagi. Mai ne dekha ke DK ki aankho mai ek nayee choot ko chodne ki chamak aa gayee thi.

Mai aur DK subah ki flight se Bangalore aa gaye aur hotel mai check in karne ke bad dono kaam pe nikal gaye. Mai ne ghar phone kar dia tha aur Satish ko bol dia tha ke mai sham mai aane wali hu to wo bohot hi khush ho gaya aur phir mai ne Urmila se bat ki aur usko bola ke wo sham 8 baje tak yaha hotel aa jaye aur dinner sath hi kar le to uski khushi ka thikana nahi tha aur soch rahi thi ke ab tak to Sneha se DK ke Lund ki tareef hi sunti aye thi par aaj dekhne aur chudne ka mouka milega. Urmila to foran hi raat ki tayyari mai lag gayee. Mai ne pehle hi bol dia tha ke DK aur Rajj dono ko hi ek dum se chikni baby choot bohot pasand hai to wo ragad ragad ke apni choot ke baal saaf karne mai lag gayee aur shaed 3 time cream laga ke apni choot ko chikna kia. Ab uski choot sach mai baby choot lag rahi thi.

Urmila time se thoda pehle hi hamare hotel pohoch gayee. Mai ne DK aur Urmila ka introduction karwaya. Thodi dre hasi mazak kia aur khul ke Dk se bol dia ke yeh meri friend hai Urmila jika mai baar baar aapse bolti rehti hu. Yeh meri bohot hi achi aur pakki friend hai iss ne mere aur mere pati ke liye wo kia hai jo shaed koi aur ladki nahi kar pati to Urmila mujh se lipat gayee aur pyar karte bola ke arey meri Sneha jaan tere liye to mai wo sab kar sakti hu jiska tu soch bhi nahi sakti aur aankh mar ke khul ke boli ke arey tu bolegi to mai tumhare MD se kia kisi se bhi chudwalugi to DK hasne lage aur bole ke thaak hai uska bhi mai kal intezam kar dunga to meri samajh mai kuch nahi aaya aur phir ham teeno mil ke hasne lage. Mai ne DK se bola ke aap Urmi ke sath dinner lelo aur uske bad Urmi ki choot ka baja baja do to phir se Urmila hasne lagi aur boli ke chal ab tu jaw aha Satish khade Lund se tera wait kar raha hai. Dk ne bhi bola ke haa Sneha ab tum jao laikin kal subah 8 baje tak aa jana kal hamari 10 baje meeting hai kuch tayyari bhi karni hai. Mai ne bola ke koi bat nahi mai aa jaugi aur baher nikal gayee.

Udhar dinner ke bad DK Urmila ko le ke apne room mai chale gaye. Urmila bohot hi friendly nature ki ladki thi sisi liye Dinner se pehle hi dono achi tarah se ghul mil gaye the. Urmila ko jab bhi mouka milta wo Lund choot aur chudai jaise shabd se DK ka dil jeet leti thi aur dono ab pakka sexy batein karne lage the. Dinner ke bad jaise hi wo dono kamre mai gaye. Urmila DK se aise lipat gayee jaise barso se jaanti ho. DK aur wo dono passionate kiss karne lage aur 5 minute ke ander hi dono ke dono nange ho chuke the. DK ka musal dekhte hi Urmila ki aankhein hairat se phati ki phati reh gayee aur usne unke Lund ko apne hatho mai weight karte karte poocha Sneha ne iss Lund se chudwaya hai to DK ne haa bola to usko yakeen nahi aaya usne phir poocha to phir bhi DK ne bola ke haa usne isi Lund se chudwaya hai aur gand bhi marwayee hai aur iski sari malayee bhi khayee hai. Urmila neeche baith gayee aur DK ke lund ko choosne lagi.

Urmila DK ka Lund chooste hue

DK bhi full mood mai aa gaye the. Urmila ke boobs bhi mere boobs se thode bade the aur uska badan bhi bohot soft aur gora tha. DK Urmila ka sar pakad ke uske muh ko chodne lage aur kabhi kabhi to itni zor se uske halak mai Lund ghusa dete ke usko khansi aa jati. Urmila bhi badi masti mai Lund choos rahi thi. Urmila ke aisa masti mai Lund choosne se DK bhi jaldi hi ready ho gaye aur poori takat se apne Lund ko Urmila ke halak ke ander tak utar dia ur pichkaeiyan mar ke uske pet mai direct dalne lage. Urmila ke throat ke ander unka Lund ghuste hi Urmila ne saans lena band kar dia tha aur una muh takleef se laal ho gaya tha. Par thodi hi der mai DK ne apna Lund baher nikal lia to Urmila ko kuch sukoon mila. Ab DK ne Urimla ko bed pe litaya aur khud neeche baith gaye aur uski tangein apne shoulders pe rakh ke uski choot ke charo taraf apni jeebh ghuma ke usko maza dete rahe. Urmila ke dono hath DK ke sar pe the aur wo bar bar apni choot utha utha ke DK ke muh mai apni choot ko ghusedna chah rahi thi par DK usko tadpane pe tuley hue the. Urmila ki choot se aise hi juice behne laga. Thodi der ke bar Urmila ki poori choot ko apne muh mai bhar lia aur apne dato se chabane lage to Urmila deewani ho gayee aur unke balo ko pakad ke unke sar ko apni choot mai bohto zro se ghusa lia aur unke muh mai jhadne lagi. Aur phir DK apni jagah se uth kar Urmila ke ooper jhuk gaye to automatically Urmila ki tangein unke kamar se lipat gayee aur phir Urmila ne apna hath badha ke DK ke Lund ke dande ko zor se dabaya aur thoda aage peeche kia aur apni choot ke ander Lund ke supade ko ragadne lagi.

DK ka Lund Urmila Ki choot phadne ko tayyar. Urmila bohot khush hai

Uski choot bohot hi laal ho chuki thi. DK ke Lund ka supada slip ho ke uski choot ke surakh mai atak gaya to uske muh se sssssssssssssssssssssss nikal gaya aur ek minute ke liye uska badan akad gaya to DK ne haste hue bola ke abhi to sirf head hi gaya hai meri jaan to usne bola ke arey koi bat nahi lagta hai aaj meri choot ka bhurta banne wala hai aur meri choot aisi kaatilana chudai ke liye tayyar hai. Dk hasne lage aur thoda sa Lund ko choot ke ander push kia to uske muh se cheekh nikal gayee oooooooiiiiiiii mmmmmmaaaaaaaaaaaaa aur phir DK apne aadhe hi Lund se Urmi ko chodte rahe to Urmila ne samjha ke shaed uski choot ne poora Lund kha liya hai aur DK ki taraf aise dekhne lagi jaise bol rahi ho ke dekho meri choot ne tumhara sara Lund apne ander le liya to DK uski nazar ko samajh gaye aur bina kuch bole uske ooper poora jhuk gaye, uske shoulders ko tight pakad lia aur apne Lund ko poora head tak baher khech lia aur iss se phele ke Urmila kuch samajh pati itni zor se Lund ko uski choot ke ander ghuseda ke wo bohot hi zor se chillayee oooooiiiiiiiiiii mmmmmaaaaa mmmmmmaaaaaarrrrrrr ddddddaaaaallllllllaaaaaa rrrreeeee mmmmeeeiiiii mmmmaaaarrrriiiii nnniiiiikkkkkaaaalllloooooo bbbbaaahhheeerrrr pppplllleeeeeaaaassssseeeee aur apni tango se aur apne hato se DK ko bohto tight pakad lia. Urmila ki aankho se aansoo nikalne lage, Uska chehra poora laal ho gaya aur saans band ho gayee. Uski choot poori tarah se phat chuki thi. Uski choot ke chamdi DK

ke lund se chipki hui thi. DK ka Lund Urmila ki choot phaadta hua uski bache dani ke muh mai ghus gaya tha. DKThodi der tak uske ooper aise hi pade rahe phir dheere dheere dhakke marne lage.

DK Urmila Ko Doggy Style mai chodne lage

Urmila ka badan thodi der tak to tight raha phir usko bhi maza aane laga aur wo apni gand uchka uchka DK ka Lund apni choot mai lene lagi. DK ka Lund Urmila ki choot mai bohot hi tight ja raha tha jaise pehle pehle meri choot mai tight jata tha phir thodi hi der mai Urmila ki choot DK ke Lund se adjust ho gayee aur maze se chudwane lagi. Takreeban har 8 – 10 dhakko ke bad Urmila ki choot jhad jati thi aur choot ke juice se uski choot kuch aur slippery ho jati thi. Thodi hi der mai DK toofani raftaar se chodne lage, sara bed bohot zor zor se hilne laga. Aisa lag raha tha jaise DK deewane ho gaye ho aur usko deewano ki tarah se chod rahe the aur phir dekhte hi dekhte DK ka Lund Urmila ki choot mai phoolne laga. Urmila kaafi chudi chudai thi foran samajh gayee ke ab DK ka fawwara chootne wala hai to usne DK ke chootado ko hatho se pakad lia aur apni tangon se bhi DK ke chootado ko apni or khechne lagi aur apni choot utha utha ke badi masti mai chudwane lagi. Uski aankhein masti mai band ho gayee thi aur ek final jhatka itni zor se mara ke Urmila phir se chillayee hhhhhhhaaaaaaaaaaeeeeeeeee sssssssssssss fffffffffffff uski aankhein apne socket mai ooper chhad gayee aur uski aankh se ek bar phir se aansoo nikalne lage aur DK ka Lund jaise uske pet mai ghus ke uske halak tak aa gaya aur Lund se malayee ka fawwara aise laga jaise uski choot ke ander flood aa gaya ho. Unki malayee ki pehli boond ke

sath hi wo phir se jhadne lagi. Dono gehri gehri saansein lene lage. DK Urmila ke badan pe collapse ho gaye unka Lund bina soft hue aise hi erection position mai Urmila ki choot ke ander phool pichakne laga.

kramashah......................


rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: Recession Ki Maar -रिसेशन की मार

Unread post by rajaarkey » 13 Dec 2014 16:36

रिसेशन की मार पार्ट--31

गतान्क से आगे..........

डीके का लंड उर्मिला की चूत मे घुसते ही उसकी आँखें ऊपेर च्चढ़ गयी.

थोड़ी देर ऐसे ही लेटे रहने के बाद जब दोनो अपने अपने सेन्सस मे वापस आए तो उर्मिला ने देखा के अभी तक डीके का लंड वैसे का वैसा ही सख़्त लोहा बना हुआ है तो उसने डीके को चूम लिया और थॅंक्स बोला तो डीके ने बोला थॅंक्स क्यों तो उसने बोला के ऐसे शानदार लंड से चोदने के लिए. आज मुझे ऐसा लगा जैसे मे सच मैं आज पहली बार चुदी हू और ज़िंदगी मे फेली बार आज सॅटिस्फाइ हुई हू. फिर उसके बाद डीके ने उसको उस रात 6 या 7 टाइम चोदा डिफरेंट स्टाइल मे और उसकी गंद भी मारी. जब उर्मिला की गंद फटी तब वो बोहोत रोई उसकी चूत और गंद दोनो से ही खून निकला था जैसे मेरी चूत और गंद से निकला था.

डीके उर्मिला को अपने ऊपेर ले के चोदने लगे

डीके उर्मिला की चिकनी चूत को घचा घच चोद रहे थे.

इधर मैं घर मे जाते ही सतीश से लिपट गयी और बोहोत ज़ोर ज़ोर से रोने लगी के मैं उसके साथ वफ़ा नही कर पाई तो उसने मुझे चूम लिया और बोला के अरे मेरी जान कोई बात नही यह बात सिर्फ़ हम ही तो जानते है इस बात को बॅस अपने हद तक ही रहने दो और जैसे चल रहा है चलने दो मुझे तुम से कोई शिकायत नही है बलके मैं तो तुम्हारा शुकुरग़ुज़ार हू के तुमने मेरे गिरते बिज़्नेस को संभाल लिया और अपना सब कुछ दाव पे लगा दिया और मुझे लिपताए हस्ते हुए बोलेके अपनी चूत और गंद भी मेरे लिए दाव पे लगा दी तो मैं ने उसके गालो पे धीरे से प्यार से मारा और बोला के "हॅट शैतान कही का" मैं तुम्हारे लिए पानी जान भी दे सकती हू सतीश यह चूत और गंद क्या चीज़ है. उस रात सतीश ने मुझे जम के चोदा पर सच बोलू के मुझे सतीश के लंड मे थोड़ा भी मज़ा नही आया. अब यह तो दुनिया की रिवाज और रीति है के शोहार चोद्ता है और वाइफ चुदती है बॅस यही रसम पूरी करने के लिए सतीश ने मुझे चोदा और मैं उस से चुद गयी पर मज़ा तो दूर की बात मेरा तो एक टाइम भी जूस नही निकला. मेरी चूत तो राज के और डीके के मूसल लंड की आदि हो गयी थी. सारी रात मे सतीश ने बड़ी मुश्किल से 2 टाइम चोदा पर जल्दी ही झाड़ भी गया. मैने उसको बोला ही नही के मुझे मज़ा नही आया और ना ही मेरी चूत से जूस निकला. मैं ने ऐसे पोज़ किया जैसे मुझे बोहोत ही मज़ा आया हो पर ऐसा कुछ नही था.

दूसरे दिन अभी उर्मिला होटेल मे सोई पड़ी थी के मे पोहोच गयी. उर्मिला को उठाया, उतनी देर मे, मैं ने डीके के लंड को चूसा और बोला के डीके प्लीज़ एक टाइम चोद डालो ना मेरी चूत मे आग लगी है जिसे सतीश बुझा नही पाए तो डीके ने मुझे बघल से पकड़ के उठा लिया और खड़े खड़े ही दीवार से टीका दिया और मेरी टाँगो को अपने कमर पे लपेट लिया और मैं ने उनकी गरदन मे अपनी बाहें डाल के उनको पकड़ लिया और दूसरे हाथ से उनके लंड को पकड़ के अपनी चूत के सुराख मे टीका दिया और बोला के मारो डीके चोद डालो साली को यह बोहोत फदाक रही है और फिर डीके ने भी एक इतना पवरफुल धक्का मारा के मेरी तो जान ही निकल गयी. और वो मुझे पागलो की तरह से चोदने लगे. अभी हमारी चुदाई चल ही रही थी के उर्मिला स्नान करके बाहर आई और हमे देखने लगी और बोली के क्यों सतीश ने नही चोदा क्या जो चुदवाने को इतनी उताओली हो रही है तो मैं ने बोला के अब तो तुझे डीके के मूसल लंड मिल गया अब तू खुद ही देख लेना के तुझे सतीश से चुदवाने मे मज़ा आता है या डीके के लंड से तो वो मुस्कुरा दी. डीके के धक्के तेज़ होते चले गये और फिर वो मेरी चूत के अंदर अपनी गरम गरम मलाई का तूफान छ्चोड़ने लगे. मैं एक दम से सॅटिस्फाइ हो गयी. मैं और मेरी चूत दोनो ही डीके के लंड से चुदने के बाद निहाल हो गये.

मैं ने और डीके ने साथ साथ शवर लिया और ब्रेकफास्ट रूम पर ही मंगवा लिया. ब्रेकफास्ट के बाद मैं और डीके तो मीटिंग के लिए चले गये जाने से पहले डीके ने उर्मिला से बोला के तुम आज यही रुक जाओ शाम को मेरा एक कोलीग आने वाला है तो हम तीनो मिल के मस्ती करेंगे तो मुझे जब पता चला के शाम की फ्लाइट से राज आने वाला है. हम शाम तक होटेल वापस आ गये थे और थोड़ी ही देर मे राज पोहोच गया. राज को हिंट दे दिया था के यहा एक नयी चूत चुदने का वेट कर रही है. राज के आने के बाद मैं ने उर्मिला का और राज का इंट्रोडक्षन करवाया. डिन्नर को जाने से पहले राज ने उर्मिला को चोदा और मुझे डीके ने. हम दोनो यानी मैं और उर्मिला डीके और राज के लंड पे चढ़ि बैठी थी और वो दोनो नीचे से धक्के मार मार के हमारी चुदाई कर रहे थे. फिर हम दोनो ने लंड एक्सचेंज किए और दोनो को दोनो ने चोदा. डिन्नर से पहले ही मे घर जाने को रेडी होने लगी तो देखा के उर्मिला डॉगी स्टाइल मे है और डीके का लंड पीछे से उर्मिला की चूत मे घुसा हुआ है और वो उसको धना धन चोद रहे है और सामने राज घुटनो के बल बैठे है और उर्मिला राज के लंड चूस रही है. पीछे से डीके धक्का मारते तो उर्मिला आगे को बढ़ जाती और जैसे ही आगे बढ़ती राज का लंड उसके हलक तक घुस जाता. मैं कपड़े चेंज कर के रेडी हो रही थी इतनी देर मे देखा के राज नीचे लेटे हुए है और उर्मिला राज के लंड की सवारी कर रही है. नीचे से राज उर्मिला की चूत मे लंड डाले उसे चोद रहे है और पीछे से डीके ने अपना लंड उसकी गंद मे घुसाया हुआ है और दोनो रिदमिकली उर्मिली की चूत और गंद को चोद रहे थे. डीके और राज दोनो ही उर्मिला को चोदने मे बिज़ी थे. मैं ने बाइ बोला तो भी किसी ने जवाब नही दिया और मैं रूम से बाहर निकल गयी और रूम का डोर ऑटोमॅटिकली लॉक हो गया. उस रात को डीके और राज ने दोनो ने मिल के उर्मिला की चुदाई की सारी हेकड़ी निकाल दी और उसकी चूत और गंद दोनो का चोद चोद के भोसड़ा बना दिया. ऐसा लग रहा था जैस उर्मिला कोई प्रोफेशनल रंडी है और चुदवाने मे माहिर है. दूसरे दिन उर्मिला चलने के काबिल नही थी. हमे वापस मुंबई आना था. शाम तक उर्मिला ने रूम मे ही रेस्ट किया और शाम को जब हमारे साथ वापस जाने के लिए नीचे उतर रही थी तब भी उसकी चाल मे लड़खड़ाहट थी और वो लंगड़ा लंगड़ा के अपनी टाँगें चौड़ी कर के चल रही थी. हम तीनो एरपोर्ट की तरफ चले गये और उर्मिला अपने घर को चली गयी. जाने से पहले डीके ने अपनी और राज की तरफ से उर्मिला को एक डाइमंड सटडेड एअर रिंग और लॉकेट का सेट दिया और इतने शानदार गिफ्ट को देख के उर्मिला बोहतो ही खुश हो गयी. उर्मिला ने जाने से पहले बोला के डीके और राज थॅंक्स फॉर एवेरितिंग आंड प्लीज़ डॉन'ट फर्गेट मी व्हेन यू आर हियर इन बॅंगलुर, आइ आम ऑल युवर्ज़ आंड विल सर्व यू टू दा बेस्ट ऑफ माइ अबिलिटी. डीके और राज ने बोला के उर्मिला ट्रूली स्पीकिंग यू आर वेरी गुड. हम ने सोचा भी नही था के कोई हमै इतनी अछी तरह से

सॅटिस्फाइ कर सकता है तो उर्मिला ने बोला के प्लेषर ईज़ माइन. हम एरपोर्ट चले गये और उर्मिला घर.

जब से मैने जॉब जाय्न किया, राज से और डीके से चुदी तो मेरी चुदाई की इच्छा बोहोत ही बढ़ गयी. अब मुझे सतीश जैसे छोटे लंड से मज़ा नही आता था. जब कभी बॅंगलुर जाना होता और सतीश से मजबूरी मे चुदवाना पड़ता तो मुझे बिल्कुल भी मज़ा नही आता और सतीश से चुदवाने के बाद अपनी ही उंगली से अपनी चूत के दाने को रगड़ रगड़ के अपनी चूत का जूस निकलती लैकिन एक टाइम भी सतीश को नही बोला के मैं क्या करती हू. उर्मिला को मालूम था के मुझे अब सतीश के लंड से मज़ा नही आता और मैं चुदने के बाद भी अपनी चूत का अपनी उंगली से मसाज करती हू. पता नही उसने सतीश से बोला या नही मुझे नही मालूम.कुछ यही हाल उर्मिला का भी हो गया था उसको भी सतीश के लंड मे मज़ा नही महसूस हो रहा था और वो भी अपनी उंगली से ही अपनी चूत का मसाज करते करते झाड़ जाती थी क्यॉंके सतीश उसको सॅटिस्फाइ नही कर पा रहा था.

मेरा जॉब बोहतो अछा चल रहा था. मैं फॉरिन के टूर पे भी जाती रही हू और कभी कभी तो बिज़्नेस डील फाइनल करने के लिए मुझे कस्टमर्स से भी चुदवाना पड़ता था और हर एक चुदाई के मुझे कंपनी से अलग से

र्स 50,000,00 मिलते थे. मैं ने सोचा के एक डील फाइनल करवाने के अगर इतने पैसे मिले तो क्या बुरा है. एक टाइम जब हज़्बेंड की अलावा किसी दूसरे मर्द से चुद चुकी जिसका मेरे पति को भी पता है तो फिर एक और लंड से चुदना क्या दो से क्या और तीन से क्या. फिर मुझे अपनी प्राइवेट लाइफ की सीक्रेसी याद आई तो मैं ने इस बात को किसी से भी शेर नही किया बस आज पहली बार आप से शेर कर रही हू और यह बात तो उर्मिला को भी नही पता के मैं कभी डील फाइनल करने के और कांट्रॅक्ट साइन करवाने के लिए मैं अपने कस्टमर्स से भी चुदवाती हू. अरे हा यह तो बताना भूल ही गयी के मैं अपने फॉरिन कस्टमर से ही चुदी हू अभी तक और हमेशा ही कॉंडम लगवा के चुदी हू कभी भी बिना कॉंडम के किसी फॉरिन कस्टमर से नही चुदवाया. अमेरिकन लंड आछे ख़ासे बड़े और मोटे होते है और उनके चोदने का ढंग भी थोड़ा अलग है. वो एक टांग उठा के चोद्ते है जिस्मै लंड अछी तरह से चूत के अंदर जाता तो है पर लंड का वो पवरफुल मार जितना ज़ोर से पड़ना चाहिए उतनी ज़ोर से नही पड़ता जितना मिशनरी पोज़िशन मे पड़ता है. हा इतना है के अमेरिकन लंड बोहोत देर से डिसचार्ज होते है और उनके लंड से चुदवाने मे मज़ा भी आता है क्यॉंके वो चोदने से पहले चूत को बोहोत अछी तरह से चाट ते है और फिर अपने लंड को भी चुस्वते है और मूह मे झाड़ भी जाते है. ब्रिटिश लंड से भी चुद चुकी हू उनके लंड उतने बड़े तो नही होते

बस ठीक ठाक ही होते है और वो चोद्ते भी अछा है मज़ा आता है उनसे चुदवाने मे भी. इटॅलियन लंड भी ठीक ठाक होते है. अरे एक टाइम तो एक आफ्रिकन से चुदवाना पड़ गया तो मेरी गंद ही फॅट गयी इतना लंबा मोटा तगड़ा लंड था साले का. काला भुजंग देखते ही डर लगने लगा था पर जब चुदवाना था तो चुदवाना था. उसने बोहोत बुरी तरह से चोदा और मार मार के मेरा और मेरी चूत का कचूमर बना दिया. उस आर्फीकन से चुदवाने मे एक बार फिर से मेरी चूत से खून निकला था. बाप रे क्या बताउ साले का कितना बड़ा था और लोहे जैसा सख़्त भी. साले ना सारी रात मे कोई 6 टाइम चोदा और फिर गंद भी मारना चाह रहा था पर मैं ने बड़ी मुश्किल से अपनी गंद की जान बचाई और उस से कांट्रॅक्ट पे साइन करवा ही लिया. डीके से जब बताया तो उसने मेरी चूत देखी और बोला के साला आदमी था या जानवर भेन्चोद फ्री की चूत मिली तो भिकारी की तरह से टूट पड़ा मदरचोड़ मेरी प्यारी स्नेहा डार्लिंग की चूत का क्या हाल बना दिया है भोसड़ी वाले ने. तुम्हारी चूत तो एक दम से खुल गयी है. इस आफ्रिकन से चुदवाने के और उस से कांट्रॅक्ट साइन करवाने के मुझे 1 लाख रूपीए मिले थे. मैं ने सोचा के चलो रात तो जैसे तैसे गुज़र ही गयी पर एक लाख रूपिया भी तो मिला जो मेरे बोहोत काम आएगा.

इंडिया से बाहर किसी एनआरआइ इंडियन से चुदवाने का मोका नही मिला. आगे पता नही के कोई लोकल या इंडियन कस्टमर से भी चुदना पड़े. स्टिल डॉन'ट नो. जब टाइम आएगा देखा जाएगा. और हा जब से मैं ने कंपनी जाय्न की है और फॉरिन कस्टमर्स से बिज़्नेस के लिए चुदवाया है हमारा बिज़्नेस एक दम से स्काइ रॉकेट हो गया और बोहोत ही बढ़ गया. फॅक्टरी का सेल्स और प्रोडक्षन एक दम से बोहोत ज़ियादा हो गया है यह देखते हुए डीके और राज ने मुझे कमिशन देने का भी फ़ैसला कर लिया. अब मुझे यियर्ली ऑलमोस्ट 20 से 25 लाख तक का तो सिर्फ़ कमिशन ही मिलता है और फिर दूसरे सर्वीसज़ के मिला कर ऑलमोस्ट4 या 5 लाख मोन्थलि मिलते है. सतीश ने अपने सारे करज़रे उतार दिए. हम ने बॅंगलुर मैं अपना एक शानदार घर बनवा लिया और सतीश ने फिर से बिज़्नेस स्टार्ट कर दिया. इस मर्तबा बिज़्नेस कुछ बड़े स्केल पे खोला था इसी लिए सतीश कुछ ज़ियादा ही बिज़ी हो गया था. अब मैं और सतीश कभी कभी ही मिल पाते है बस हमारी टेलिफोन पर ही बात चीत होती रहती है. उर्मिया के पति को शाएद किसी ने बता दिया के वो किसी और के घर मे रहने लगी है तो उसके पति ने भी फोन करना कम कर दिया. उर्मिला को भी अब हमारी ही फॅक्टरी मे डीके ने एक जॉब ऑफर की और बॅंगलुर मैं ही एक ब्रच खोल के उसको ब्रांच मॅनेजर बना के बिठा दिया. अब उर्मिला के पास भी पैसे की रेल पेल होने लगी और वो भी पैसो मे खेलने लगी. प्रोबेशन पीरियड ख़तम होते ही उसको भी कमिशन मिलने लगा था जो अछा ख़ासा था और मंत्ली ऑलमोस्ट 20,000.00 से

25,000.00 तक बन जाता था. वो भी काफ़ी बिज़ी हो गयी थी अब उसको भी ज़ियादा टाइम नही मिलता था. इसी लिए अब वो अपने पति के फोन का भी इंतेज़ार नही करती थी और उसने भी सोचना छ्चोड़ दिया था के उसका फ्यूचर बिना पति के कैसा होगा. उसकी सॅलरी भी अब तक इनक्रीमेंट के साथ 40,000.00 तक पोहोच गयी थी और फिर उसको हाउसिंग अलग से मिलती थी. उर्मिला और सतीश एक साथ ही रहते थे और अभी तक एक दूसरे को चोद्ते थे. राज और डीके जब बॅंगलुर आते तो उर्मिला को ज़रूर चोद्ते. उर्मिला भी बड़े मज़े से चुदवाती.

मैं ने दुबई मे अपना खुद का एक आउटलेट खोल लिया जहा से मैं अपनी फॅक्टरी का सेल्स किया करती हू. अपने दुबई ऑफीस के मॅनेजर के लिए मैं ने ममता को बोह्त अछी सॅलरी पे रख लिया. ममता अभी अनमॅरीड थी और बोहोत ही खूबसूरत और नाज़ुक लड़की थी. ममता बोहोत खुश हो गयी. ममता को मैं ने शोरुम कम ऑफीस के ऊपेर ही 2 रूम की फेसिलिटी मे रख लिया. दुबई मे घर मिलना बोहोत मुश्किल है इसी लिए ऑफीस के ऊपेर ही उसको अकॉमडेशन दे दिया. मैं जब कभी अपने दुबई ऑफीस को अटेंड करती तो वही ममता के साथ ही रहती. ममता एक बोहोत ही अछी लड़की थी पर उसको सेक्स के बारे मे कुछ भी पता नही था. एक रात जब मैं और ममता साथ साथ लेटे थे तब पता नही कैसे सेक्स का टॉपिक और डीके से मेरा चुदवाना डिस्कशन मे आया और मैं गरम हो गयी और ममता की चूत पे हाथ रख दिया तो उसके मूह से सस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सस्स की आवाज़ निकली और उसने अपनी टाँगें टाइट बंद कर ली फिर धीरे धीरे रिलॅक्स हुई और मैने उसकी चूत पे हाथ रख दिया और मसाज करने लगी. ममता ने बताया के वो अक्सर अपनी चूत का मसाज करती है. मैं ने ममता को नंगा कर दिया और खुद भी नंगी हो गयी और फिर हम दोनो एक दूसरे के बदन से खेलने लगे. मैं ने ममता को अपने ऊपेर खेच लिया और उसको पलटा दिया और उसकी चूत को चाटने लगी. उसका मूह मेरी चूत के सामने थी तो उसने भी फॉरन ही मेरी चूत को चाटना शुरू कर दिया. यह उसका पहला लेज़्बीयन सेक्स एक्सपीरियेन्स था. उसको बोहोत मज़ा आया. ममता की चूत बोहोत छोटी थी. अभी उसकी उमर ही क्या थी बेचारी की मॅग्ज़िमम होगी कोई 22 – 23 साल की. मजबूरी मे जॉब करना पड़ गया था उसको. डीके ने उसको मेरे साथ काम करने की पर्मिशन दे दी थी और अब वो मेरे पेरोल पे थी. हा तो यह ममता का पहला लेज़्बीयन सेक्स एक्सपीरियेन्स था जिसे उसने बोहोत ही अछी तरह से एंजाय किया. मैं ने पूछा के डीके से चुद्वओगि क्या ? तो वो मुस्कुरा के बोली के मेडम आपके बोलने के हिसाब से तो मैं तो उन से चुदवाने के मर ही जाउन्गी तो मैं ने हस्ते हुए कहा के नही मेरी जान चुदवाने से कोई नही मरता. मैं ने बोला के अगर ऐसे मोटे लंड से चुदवाने मे मरना होता तो ज़रा खुद सोचो डेलिवरी के टाइम पे औरत की चूत से इतना बड़ा बच्चा कैसे निकल पाता तो उसकी समझ मे बात आ गयी और उसने बोला के मुझे अभी भी डर लग रहा है तो

मैं ने बोला के अरे ऐसे डरती रहोगी तो कैसे काम चलेगा एक टाइम हिम्मत कर्लो और चुदवा लो तब तुम्है पता चलेगा के चुदवाने मे कितना मज़ा आता है और लड़की के लिए एक अछा लंबा मोटा लोहे जैसे लंड से चुदवाना क्या मायने रखता है. यूँ तो तुम चुदवा ही लोगि शाएद शादी से पहले या शादी के बाद, पता नही तुम जिस लंड से चुद्वओगि वो कैसा होगा. डीके का लंड तो ट्रस्टेड है मुझे पता है के ऐसा शानदार लंड जब मुझे कही नही मिला तो तुम्है क्या मिलेगा. ममता मेरी बात सुन के थोडा थोड़ा रेडी तो हो रही थी पर डर भी रही थी. मैं ने बोला के जब तुम अपनी कुँवारी चूत की सील डीके के शानदार लंड से तूडवाओगी तो तुम्हारी चूत भी तुम्है दुआए देगी के कैसे मस्त लंड से टूटी है तो वो हस्ने लगी फिर मैं ने उसको अपनी बाँहो मे भर लिया और फिर हम एक बार फिर से 69 की पोज़िशन मे आ गये और एक दूसरे की चूतो को चाटने लगे और फिर झड़ने के बाद एक दूसरे की बाँहो मे बाहें डाल के गहरी नींद सो गये.

क्रमशः......................

Recession Ki Maar part--31

gataank se aage..........

DK Ka Lund Urmila ki choot mai ghuste hi uski aankhein ooper chhadh gayee.

Thodi der aise hi lete rehne ke bad jab dono apne apne senses mai wapas aye to Urmila ne dekha ke abhi tak DK ka Lund waise ka waisa hi sakht loha bana hua hai to usne DK ko choom lia aur Thanks bola to DK ne bola thanks kyon to usne bola ke aise shandaar Lund se chodne ke liye. Aaj mujhe aisa laga jaise mai sach mai aaj pehli bar chudi hu aur zindagi mai pheli bar aaj satisfy hui hu. Phir uske bad DK ne usko uss raat 6 ya 7 time choda different style mai aur uski gand bhi mari. Jab Urmila ki gand phati tab wo bohot roi uski choot aue gand dono se hi khoon nikla tha jaise meri choot aur gand se nikla tha.

DK Urmila ko apne ooper le ke chodne lage

DK Urmila Ki Chikni Choot ko ghacha ghach chod rahe hai.

Idhar mai ghar mai jate hi satish se lipat gayee aur bohot zor zor se rone lagi ke mai uske sath wafa nahi kar payee to usne mujhe choom lia aur bola ke are meri jaan koi bat nahi yeh bat sirf ham hi to jaante hai iss baat ko bass apne hadd tak he rehne do aur jaise chal raha hai chalne do mujhe tum se koi shikayat nahi hai balke mai to tumhara shukurguzar hu ke tumne mere girte business ko sambhal lia aur apna sab kuch dao pe laga dia aur mujhe liptaye haste hue boleke apni choot aur gand bhi mere liye dao pe laga di to mai ne uske galo pe dheere se pyar se mara aur bola ke "hatt shaitan kahi ka" mai tumhare liye pani jaan bhi de sakti hu Satish yeh choot aur gand kia cheez hai. Uss raat Satish ne mujhe jam ke choda par sach bolu ke mujhe Satish ke Lund mai thoda bhi maza nahi aaya. Ab yeh to dunya ki riwaj aur reeti hai ke shohar chodta hai aur wife chudti hai bass yehi rasam poori karne ke liye Satish ne mujhe choda aur mai us se chud gayee par maza to door ki baat mera to ek time bhi juice nahi nikla. Meri choot to Rajj ke aur DK ke musal Lund ki aadi ho gayee thi. Sari raat mai Satish ne badi mushkil se 2 time choda par jaldi hi jhad bhi gaya. Maine usko bola hi nahi ke mujhe maza nahi aaya aur na hi meri choot se juice nikla. Mai ne aise pose kia jaise mujhe bohot hi maza aaya ho par aisa kuch nahi tha.

Doosre din abhi Urmila hotel mai soi padi thi ke mai pohoch gayee. Urmila ko uthaya, utni der mai, mai ne DK ke Lund ko choosa aur bola ke DK please ek time chod dalo na meri choot mai aag lagi hai jise Satish bujha nahi paye to DK ne mujhe baghal se pakad ke utha lia aur khade khade hi deewar se tika dia aur meri tango ko apne kamar pe lapet lia aur mai ne unki garadan mai apni bahein dal ke unko pakad lia aur doosr hath se unke Lund ko pakad ke apni choot ke surakh mai tika dia aur bola ke maaro Dk chod dalo Sali ko yeh bohot phadak rahi hai aur phir DK ne bhi ek itna powerful dhakka mara ke meri to jaan hi nikal gayee. Aur wo mujhe pagalo ki tarah se chodne lage. Abhi hamari chudai chal hi rahi thi ke Urmila snan karke baher ayi aur hamei dekhne lagi aur boli ke kyon Satish ne nahi choda kia jo chudwane ko itni utaoli ho rahi hai to mai ne bola ke ab to tujhe DK ke Musal Lund mil gaya ab tu khud hi dekh lena ke tujhe Satish se chudwane mei maza aata hai ya DK ke lund se to wo muskura di. DK ke dhakke tez hote chale gaye aur phir wo meri choot ke ander apni garam garam malayee ka toofan chhodne lage. Mai ek dum se satisfy ho gayee. Mai aur meri choot dono hi DK ke Lund se chudne ke baad nihaal ho gaye.

Mai ne aur DK ne sath sath shower lia aur breakfast room par hi mangwa lia. Breakfast ke bad mai aur DK to meeting ke liye chale gaye jane se pehle DK ne Urmila se bola ke tum aaj yahi ruk jao sham mai mera ek colleague aane wala hai to ham teeno mil ke masti karenge to mujhe jab pata chala ke sham ki flight se Rajj aane wala hai. Ham sham tak hotel wapas aa gaye the aur thodi hi der mai Raj pohoch gaya. Raj ko hint de dia tha ke yaha ek nayee choot chudne ka wait kar rahi hai. Rajj ke aane ke bad mai ne Urmila ka aur Rajj ka introduction karwaya. Dinner ko jaane se pehle Raj ne Urmila ko choda aur mujhe DK ne. Ham dono yani mai aur Urmila DK aur Rajj ke Lund pe chhadhi baithi thi aur wo dono neeche se dhakke maar maar ke hamari chudai kar rahe the. Phir ham dono ne Lund exchange kiye aur dono ko dono ne choda. Dinner se pehle hi mai ghar jane ko ready hone lagi to dekha ke Urmila doggy style mai hei aur DK ka Lund peeche se Urmila ki choot mai ghusa hua hai aur wo usko dhana dhan chod rahe hai aur samne Rajj ghutno ke bal baithe hai aur Urmila Raj ke Lund choos rahi hai. Peeche se DK dhakka marte to Urmila aage ko badh jati aur jaise hi aage badhti Raj ke Lund usne halak tak ghus jata. Mai kapde change kar ke ready ho rahi thi itni der mai dekha ke Raj neeche lete hue hai aur Urmila Raj ke Lund ki sawari kar rahi hai. Neeche se Raj Urmila ki choot mai Lund dale use chod rahe hai aur peeche se DK ne apna Lund uski gand mai ghusaya hua hai aur dono rhythmically Urmili ki choot aur gand ko chod rahe the. DK aur Rajj dono hi Urmila ko chodne mai busy the. Mai ne bye bola to bhi kisi ne jawab nahi dia aur mai room se baher nikal gayee aur room ka door automatically lock ho gaya. Uss raat ko DK aur Rajj ne dono ne mil ke Urmila ki chudai ki saari hekdi nikal di aur uski choot aur gand dono ka chod chod ke bhosda bana dia. Aisa lag raha tha jais Urmila koi professional randi hai aur chudwane mai mahir hai. Doosre din Urmila chalne ke kabil nahi thi. Hamei wapas Mumbai aana tha. Sham tak Urmila room mai hi rest kia aur sham mai jab hamare sath wapas jaane ke liye neeche utar rahi thi tab bhi uski chaal mai ladkhadahat thi aur wo langda langda ke apni tangein choudi kar ke chal rahi thi. Ham teeno airport ki taraf chale gaye aur Urmila apne ghar ko chali gayee. Jaane se pehle DK ne apni aur Rajj ki taraf se Urmila ko ek diamond studded ear ring aur locket ka set dia aur itne shandaar gift ko dekh ke Urmila bohto hi khush ho gayee. Urmila ne jaane se pehle bola ke DK aur Rajj thanks for everything and please don't forget me when you are here in Bangalore, I am all yours and will serve you to the best of my ability. Dk aur Rajj ne bola ke Urmila truly speaking you are very good. Ham ne socha bhi nahi tha ke koi hamai itni achi tarah se

satisfy kar sakta hai to Urmila ne bola ke Pleasure is mine. Ham airport chale gaye aur Urmila ghar.

Jab se mai job join kia, Raj se aur DK se chudi to meri chuayee ki iccha bohot hi badh gayee. Ab mujhe Satish jaise chote Lund se maza nahi aata tha. Jab kabhi Bangalore jana hota aur Satish se majboori mai chudwana padta to mujhe bilkul bhi maza nahi aata aur Satish se chudwane ke bad apni hi ungli se apni choot ke dane ko ragad ragad ke apni choot ka juice nikalti laikin ek time bhi Satish ko nahi bola ke mai kia karti hu. Urmila ko malum tha ke mujhe ab Satish ke Lund se maza nahi aata aur mai chudne ke bad bhi apni choot ka apni ungli se massage karti hu. Pata nahi usne Satish se bola ya nahi mujhe nahi maloom.Kuch yehi haal Urmila ka bhi ho gaya tha usko bhi Satish ke Lund mai maza nahi mehsoos ho raha tha aur wo bhi apni ungli se hi apni choot ka massage karte karte jhad jati thi kyonke satish usko satisfy nahi kar pa raha tha.

Mera job bohto acha chal raha tha. Mai foreign ke tour pe bhi jati rahi hu aur kabhi kabhi to business deal final karne ke liye mujhe customers se bhi chudwana padta tha aur har ek chudai ke mujhe company se alag se

Rs 50,000,00 milte the. Mai ne socha ke ek deal final karwane ke agar itne paise mile to kia bura hai. Ek time jab husband ki alawa kisi doosre mard se chud chuki jiska merre pati ko bhi pata hai to phir ek aur Lund se chudna kia do se kia aur teen se kia. Phir mujhe apni private life ki secrecy yaad ayi to mai ne iss baat ko kisi se bhi share nahi kia bas aaj pehli baar aap se share kar rahi hu aur yah bat to Urmila ko bhi nahi pata ke mai kabhi deal final karne ke aur contract sign karwane ke liye mai apne customers se bhi chudwati hu. Arey haa yeh to batana bhul hi gayee ke mai apne foreign customer se hi chudi hu abhi tak aur hamesha hi condom lagwa ke chudi hu kabhi bhi bina condom ke kisi foreign customer se nahi chudwaya. American Lund ache khase bade aur mote hote hai aur unke chodne ka dhang bhi thoda alag hai. Wo ek tang utha ke chodte hai jismai Lund achi tarah se choot ke ander jata to hai par Lund ka wo powerful maar jitna zor se panda chahiye utni zor se nahi padta jitna missionary position mai padta hai. Haa itna hai ke American Lund bohot der se discharge hote hai aur unke Lund se chudwane mai maza bhi aata hai kyonke wo chodne se pehle choot ko bohot achi tarah se chaaat te hai aur phir apne Lund ko bhi chuswate hai aur muh mai jhad bhi jate hai. British Lund se bhi chud chuki hu unke Lund utne bade to nahi hote

bas theek thaak hi hote hai aur wo chodte bhi acha hai maza aata hai unse chudwane mai bhi. Italian Lund bhi theek thaak hote hai. Arey ek time to ek African se chudwana pad gaya to meri gand hi phat gayee itna lamba mota tagda Lund tha sale ka. Kaala bhujang dekhte hi dar lagne laga tha par jab chudwana tha to chudwana tha. Usne bohot buri tarah se choda aur maar maar ke mera aur meri choot ka kachumar bana dia. Uss Arfican se chudwane mai ek bar phir se meri choot se khoon nikla tha. Baap re kia batau sale ka kitna bada tha aur lohe jaisa sakht bhi. Sale na sari raat mai koi 6 time choda aur phir gand bhi marna chah raha tha par mai ne badi mushkil se apni gand ki jaan bachayee aur us se contract pe sign karwa hi lia. DK se jab bataya to usne meri choot dekhi aur bola ke sala aadmi tha ya janwar bhenchod free ki choot mili to bhikari ki tarah se toot pada maderchod meri pyari Sneha darling ki choot ka kia haal bana dia hai bhosdi wale ne. Tumhari choot to ek dum se khul gayee hai. Iss African se chudwane ke aur us se contract sign karwane ke mujhe 1 Lakh rupiye mile the. Mai ne socha ke chalo raat to jaise taise guzar hi gayee par ek laakh rupiya bhi to mila jo mere bohot kaam ayega.

India se baher kisi NRI Indian se chudwane ka moka nahi mila. Aage pata nahi ke koi local ya Indian customer se bhi chudna pade. Still don't know. Jab time ayega dekha jaega. Aur haa jab se mai ne company join ki hai aur foreign customers se business ke liye chudwaya hai hamara business ek dum se sky rocket ho gaya aur bohot hi badh gaya. Factory ka sales aur production ek dum se bohot ziada ho gaya hai Yeh dekhte hue DK aur Rajj ne mujhe commission dene ka bhi faisla kar lia. Ab mujhe yearly almost 20 se 25 laakh tak ka to sirf commission hi milta hai aur phir doosre services ke mila kar almost4 ya 5 lakh monthly milte hai. Satish ne apne sare karzre utar diye. Ham ne Bangalore mai apna ek shandaar ghar banwa lia aur Satish ne phir se business start kar dia. Iss martaba business kuch bade scale pe khola tha isi liye Satish kuch ziada hi busy ho gaya tha. Ab mai aur Satish kabhi kabhi hi mil pate hai bas hamari telephone par hi bat cheet hoti rehti hei. Urmia ke pati ko shaed kisi ne bata dia ke wo kisi aur ke gahr mai rehne lagi hai to uske pati ne bhi phone karna kam kar dia. Urmila ko bhi ab hamari hi factory mai DK ne ek job offer ki aur Bangalore mai hi ek brach khol ke usko Branch manager bana ke bitha dia. Ab Urmila ke pas bhi paise ki rel pel hone lagi aur wo bhi paiso mai khelne lagi. Probation period khatam hote hi usko bhi commission milne laga tha jo acha khasa tha aur monthly almost 20,000.00 se

25,000.00 tak ban jata tha. Wo bhi kaafi busy ho gayee thi ab usko bhi ziada time nahi milta tha. Isi liye ab wo apne pati ke phone ka bhi intezar nahi karti thi aur usne bhi sochna chhod dia tha ke uska future bina pati ke kaisa hoga. Uski salary bhi ab tak increament ke sath 40,000.00 tak pohoch gaye thi aur phir usko housing alag se milti thi. Urmila aur Satish ek sath hi rehte the aur abhi tak ek doosre ko chodte the. Rajj aur DK jab Bangalore aate to Urmila ko zaroor chodte. Urmila bhi bade maze se chudwati.

Mai ne Dubai mei apna khud ka ek outlet khol lia jaha se mai apni factory ka sales kia karti hu. Apne Dubai office ke manager ke liye mai ne Mamta ko boht achi salary pe rakh lia. Mamta abhi unmarried thi aur bohot hi khubsurat aur nazuk ladki thi. Mamta bohot khush ho gayee. Mamta ko mai ne showroom cum office ke ooper hi 2 room ki facility mai rakh lia. Dubai mei ghar milna bohot mushkil hai isi liye office ke ooper hi usko accommodation de dia. Mai jab kabhi apne Dubai office ko attend karti to wahi Mamta ke sath hi rehti. Mamta ek bohot hi achi ladki thi par usko sex ke bare mai kuch bhi pata nahi tha. Ek rat jab mai aur Mamta sath sath lete the tab pata nahi kaise sex ka topic aur DK se mera chudwana discussion mai aaya aur mai garam ho gayee aur Mamta ki choot pe hath rakh dia to uske muh se sssssssssssssss ki awaz nikli aur usne apni tangein tight band kar li phir dheere dheere relax hui aur mai uski choot pe hath rakh dia aur massage karne lagi. Mamta ne bataya ke wo aksar apni choot ka massage karti hai. Mai ne Mamta ko nanga kar dia aur khud bhi nangi ho gayee aur phir ham dono ek doosre ke badan se khelne lage. Mai ne Mamta ko apne ooper khech lia aur usko palta dia aur uski choot ko chaatne lagi. Uska muh meri choot ke samne thi to usne bhi foran hi meri choot ko chaatna shuru kar dia. Yeh uska pehla lesbian sex experience tha. Usko bohot maza aaya. Mamta ki choot bohot choti thi. Abhi uski umar hi kia thi bechari ki maximum hogi koi 22 – 23 saal ki. Majboori mai job karna pad gaya tha usko. DK ne usko mere sath kaam karne ki permission de di thi aur ab wo mere payroll pe thi. Haa to yeh Mamta ka pehla lesbian sex experience tha jise usne bohot hi achi tarah se enjoy kia. Mai ne poocha ke DK se chudwaogi kia ? to wo muskura ke boli ke madam aapke bolne ke hisab se to mai to un se chudwa ke mar hi jaungi to mai ne haste hue kaha ke nahi meri jaan chudwane se koi nahi marta. Mai ne bola ke agar aise mote Lund se chudwane mai marna hota to zara khud socho delivery ke time pe aurat ki choot se itna bada bacha kaise nikal pata to uski samajh mai baat aa gayee aur usne bola ke mujhe abhi bhi dar lag raha hai to

mai ne bola ke arey aise darti rahogi to kaise kaam chalega ek time himaat karlo aur chudwa lo tab tumhai pata chalega ke chudwane mai kitna maza aata hai aur ladki ke liye ek acha lamba mota lohe jaise lund se chudwana kia mane rakhta hai. Yun to tum chudwa hi logi shaed shadi se pehle ya shadi ke bad, pata nahi tum jis Lund se chudwaogi wo kaisa hoga. DK ka lund to trusted hai mujhe pata hai ke aisa shandar Lund jab mujhe kahi nahi mila to tumhai kia milega. Mamta meri bat sun ke thoda thoda ready to ho rahi thi par dar bhi rahi thi. Mai ne bola ke jab tum apni kunwari choot ki seal DK ke shandar Lund se tudwaogi to tumhari choot bhi tumhai duaye degi ke kaise mast Lund se tooti hai to wo hasne lagi phir mai ne usko apni baho mai bhar lia aur phir ham ek bar phir se 69 ki position mai aa gaye aur ek doosre ki chooto ko chaatne lage aur phir jhadne ke bad ek doosre ki baho mai bahein dal ke gehri neend so gaye.

kramashah......................